सरगुजा

आज भी ढिबरी युग में जी रहे हैं कई गांवों के ग्रामीण
12-Oct-2021 8:11 PM (34)
  आज भी ढिबरी युग में जी रहे  हैं कई गांवों के ग्रामीण

सौभाग्य योजना से ढाई वर्ष पहले खंभे गाड़ कर दिए, पर बिजली नहीं मिली

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

उदयपुर, 12 अक्टूबर। आज भी सरगुजा जिले के कुछ आदिवासी गांव बिजली सुविधा से वंचित हैं। उदयपुर विकास खण्ड के ग्राम भकुरमा, जूझडांड़, बेलडांड़, दर्रीडांड़, कानाडांड़ व भेलवाडांड़ में ढाई वर्ष पूर्व केन्द्रीय मद की सौभाग्य योजना से ठेकेदार द्वारा खंभे गाड़ दिए गए हैं, लेकिन इतने दिनों बाद भी बजट होने के उपरांत उन खंभों में कंडक्टर व ट्रांसफार्मर की व्यवस्था नहीं की गई है।

सोमवार को जन सम्पर्क में पहुंचे भाजपा जिला उपाध्यक्ष विनोद हर्ष से ग्रामीणों ने अपनी इस मूलभूत समस्या से अवगत कराया व बताया कि हम सभी लगातार दो वर्षों से कार्यालय व अधिकारियों का चक्कर लगाते लगाते थक गये हैं, लेकिन हमारा यह महत्वपूर्ण काम नहीं हो पा रहा है।

ग्रामीणों ने बताया कि इस सुदुर बीहड़ जंगल क्षेत्र में लगातार हाथियों का खौफ बना रहता है। बिजली न होने के कारण रात और भी भयावह लगती है उपर से भालू, तेंदुआ सहित सांप बिच्छू के आतंक से नारकीय जीवन जीने के लिए हम विवश हैं। बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित होती है।

भाजपा जिला उपाध्यक्ष विनोद हर्ष ने ग्रामीणों की बात सुनकर उनसे हस्ताक्षरित आवेदन लेकर तत्काल इस मामले को कलेक्टर व अन्य संबंधित अधिकारियों से भेंट कर अवगत कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि लोग अभी भी ढिबरी युग में जीने के लिए मजबूर हैं, जबकि केन्द्र की मोदी सरकार ने शत् प्रतिशत गांवों में विद्युतीकरण के लिए देश भर के सभी राज्यों में सौभाग्य योजना के तहत राशि उपलब्ध करा शीघ्र विद्युतीकरण कराने के निर्देश दिए हैं। समझ में नहीं आता कि छत्तीसगढ़ की प्रदेश सरकार किस आधार पर राज्य को शत प्रतिशत विद्युतीकृत बता रही हैं। शासन प्रशासन द्वारा जनजातीय बाहुल्य ग्रामों की घोर उपेक्षा समझ से परे है।

उन्होंने कहा कि यदि समयावधि में कार्य पूर्ण नहीं होगा तो जनता आन्दोलन के लिए बाध्य होगी।

उपस्थित लोगों से प्रधानमंत्री गरीब अन्न कल्याण योजना के तहत मिल रहे नि:शुल्क चावल, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि सहित अन्य केन्द्र सरकार चलित योजनाओं की जानकारी ली।

इस अवसर पर बुद्धि राम,अजय भगत,उदई यादव, राजामोहन,फूदूल राम,अमृत राम,सागर,राजू, जगेश्वर यादव, फूलमती, बृजमोहन,संदीप,फिरूराम, शिवपाल,नन्देश्वर, मुन्ना राम सहित अनेक महिला पुरुष उपस्थित रहे ।

अन्य पोस्ट

Comments