सूरजपुर

लाइफ लाइन एक्सप्रेस में हजारों के उपचार से खुशहाली का मार्ग प्रशस्त- सिंहदेव
16-Oct-2021 5:19 PM (51)
लाइफ लाइन एक्सप्रेस में हजारों के उपचार से खुशहाली का मार्ग प्रशस्त- सिंहदेव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिश्रामपुर, 16 अक्टूबर।
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि नगर के रेलवे मालधक्का परिसर में राज्य शासन के सहयोग से इंपैक्ट इंडिया फाउंडेशन के चलते फिरते अस्पताल लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन में आयोजित नि:शुल्क उपचार एवं सर्जरी शिविर में 9271 मरीजों का उपचार करने के साथ ही दूरदराज के जरूरतमंद 1002 मरीजों का सफल उपचार कर उनके परिवार में खुशहाली का मार्ग प्रशस्त  हुआ है। जिला प्रशासन की कुशल कार्यशैली एवं सभी वर्ग के सहयोग ने इस शिविर को महापर्व बनाने का काम किया है। इसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं।
कैबिनेट मंत्री सिंहदेव नगर के रेलवे मालधक्का परिसर में 26 अक्टूबर से 13 नवंबर तक देश के इकलौते और विश्व के पहले चलते फिरते सर्व सुविधायुक्त अस्पताल लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन में आयोजित चिकित्सा शिविर के समापन समारोह में मुख्य अतिथि की आसंदी से अपने उद्गार व्यक्त कर रहे थे।
उन्होंने दूरदराज ग्रामों से जरूरतमंद मरीजों को लाने एवं वापस घर तक पहुंचाने की व्यवस्था के साथ शिविर को सभी लोगों के सहयोग से ऐतिहासिक रूप से सफल बनाने के लिए सूरजपुर कलेक्टर डॉ. गौरव सिंह एवं उनकी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रशासनएवं लोगों के समर्पण व सहयोग की मिसाल यह शिविर रहा। आम लोगों को चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में अग्रसर छत्तीसगढ़ सरकार के प्रयास से इस शिविर ने सफलतम आपरेशन के साथ एक हजार परिवारों में खुशहाली लाने का काम किया है।
स्वास्थ्य मंत्री ने चिकित्सा के क्षेत्र में राज्य की सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यो की जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना की स्थिति से निपटने के स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए सूरजपुर जिले में कलेक्टर की सक्रियता से इस जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में सौ बिस्तरों की व्यवस्था की गई है। जिले के चार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी ऐसी ही व्यवस्था की जा रही है। वहीं जिले में पंडो जनजाति के सदस्यों के बीमारी की बात को स्पष्ट करते हुए बताया कि उसके लिए शोध किया जा रहा है और जल्द ही उसका निष्कर्ष सामने आ जाएगा।

र्यक्रम की विशिष्ट अतिथि केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने आपरेशन के बाद मरीजों के स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए जिला प्रशासन को शिविर की सफलता के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि लाइफ लाइन शिविर से जरूरतमंद मरीजों के जीवन में खुशहाली आई है।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर काफी चिंतित हैं और उनके नेतृत्व में केंद्र सरकार निरंतर स्वास्थ्य सुविधाओं में विस्तार कर रही है।

उन्होंने महापर्व रूपी इस शिविर की सफलता के लिए कलेक्टर एवं प्रशासनिक टीम के साथ साथ इस पुनीत कार्य में सब आगे बढऩे वालों को बधाई दी। इसके अलावा संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े समेत अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष भानुप्रताप सिंह ने भी शिविर की सफलता के लिए जिला प्रशासन को बधाई देते हुए अपने उद्गार व्यक्त किए।

शिविर के समापन अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा आयोजित समापन व चिकित्सकों समेत सहयोगियों के सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि टीएस सिंह देव स्वास्थ्य मंत्री समेत केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह, संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े, अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष भानुप्रताप सिंह एवं छत्तीसगढ़ श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद ने कोरोना की चपेट में आकर शहीद हुए लोगों को दीप प्रज्ज्वलित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। अतिथियों का शाल श्रीफल से सम्मान करने के पश्चात जिला पंचायत सीईओ राहुल देव गुप्ता ने स्वागत उद्बोधन में अतिथियों का स्वागत करते हुए शिविर की जानकारी दी।

एसपी भावना गुप्ता के उद्बोधन के पश्चात कलेक्टर डा. गौरव कुमार सिंह ने बताया कि प्रशासनिक टीम के साथ साथ शिविर में सभी वर्ग के लोगों की सहभागिता ने शिविर को सामाजिक महापर्व बनाने का काम किया। उन्होंने कहा कि सभी वर्ग की सहभागिता के कारण ही शिविर को अभूतपूर्व सफलता मिली। इस दौरान जिला प्रशासन ने भालू के हमले से चेहरे की चोट से घायल 30 लोगों के आपरेशन की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही कुपोषित बच्चों की जांच के लिए 89 हजार बच्चों की जांच में कुपोषित मिले 214 बच्चों को सुपोषित करने की भी जिला प्रशासन तैयारी कर रहा है।

एक हजार से अधिक हुए आपरेशन-
26 अक्टूबर से 13 नवंबर तक आयोजित इस विशाल स्वास्थ्य शिविर में संभाग भर के दूरदराज क्षेत्रों के साथ ही सीमावर्ती राज्यों से आए विभिन्न रोगों से ग्रसित 9271 मरीजों का निशुल्क उपचार किया गया।
 

अन्य पोस्ट

Comments