रायगढ़

लैलूंगा के मित्तल परिवार की दुकान में फिर चोरी, सीसीटीवी में चोर कैद
18-Oct-2021 6:53 PM (57)
लैलूंगा के मित्तल परिवार की दुकान में फिर चोरी, सीसीटीवी में चोर कैद

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायगढ़, 18 अक्टूबर। जिले के विकासखंड मुख्यालय लैलूंगा में पिछले दिनों व्यापारी मित्तल दंपत्ति  की हत्या के बाद इसी परिवार से जुड़ा एक और मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बीती रात चोरों ने मृतक व्यवसायी के एक भाई की दुकान से नगदी और मोबाईल पार कर दिया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक चोरी करने के दौरान उनकी हरकत सीसीटीवी फुटेज में कैद हुई है। बताया जाता है कि यह दुकान लैलूंगा थाने से महज ढाई सौ मीटर की दूरी पर स्थित है।

    ज्ञात हो कि पिछले दिनों मित्तल परिवार के ही व्यवसायी दंपत्ति की हत्या का मामला अभी पूरी तरह से सुलझ भी नहीं पाया है कि इसी परिवार से जुड़ा एक और मामला सामने आ गया है। बताया जा रहा है कि स्व. मदन मित्तल के भाई मोहन मित्तल की लैलूंगा रायगढ़ रोड में ही गल्ला किराना दुकान है, जो लैलूंगा थाने के पास ही स्थित है।

बीती रात इस दुकान में चोरों ने धावा बोलकर गल्ले में रखे 20 हजार की नगदी सहित दो मोबाइल पर हाथ साफ कर दिया। बताया जा रहा है कि गल्ला किराना की यह दुकान दो मंजिला इमारत है, जिसमें उपर और नीचे दो डिवीआर लगे हुए थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक देर रात करीब डेढ़ बजे हथियारबंद चोरों ने दुकान का शटर तोडक़र इस दुकान में प्रवेश किया। वारदात के समय चोरों के हाथ में लोहे का राड मौजूद था। दुकान का शटर तोडक़र दुकान में घुसने के बाद चोरों ने करीब आधे घंटे तक पूरी तसल्ली से दुकान को खंगाला और व्यवसायी के द्वारा गल्ले में रखे नगदी सहित दराज में मौजूद दो मोबाईल को उठा लिया। इन शातिर चोरों ने चोरी करने से पहले नीचे के डिवीआर वाले तार को भी काट दिया था, ताकि उनकी हरकत सीसीटीवी में कैद न हो सके। मगर चूंकि इस दुकान में उपर और नीचे दो सीसीटीवी लगे हुए थे। इसलिए उपर की सीसीटीवी चलती रही, जिसके कारण चोरों की यह हरकत सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई।

 पुलिस सूत्रों के मुताबिक अब पुलिस इसी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चोरों की शिनाख्त करने और उनकी पतासाजी में जुट गई है। चूंकि यह मामला लैलूंगा के प्रतिष्ठित व्यवसायी मित्तल परिवार से जुड़ा हुआ है और पिछले दिनों ही इसी परिवार के एक दंपत्ति की तब जघन्य हत्या हो चुकी है।

ज्ञात हो कि इसी तरह से चोर चोरी के ही इरादे से स्व. मदन मित्तल के घर में घुसे थे और चोरी के दौरान ही उन्होंने हत्या जैसी जघन्य घटना को अंजाम दे दिया। ताजा चोरी की घटना में भी चोरों के पास लोहे के राड जैसा हथियार था और इस बात की आशंका से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि यदि चोरी के दौरान दुकान में मित्तल परिवार का कोई मिल जाता तो उसके साथ भी वही घटना हो सकती थी। पुलिस ने इस मामले में जहां चार नाबालिग आरोपियों को हिरासत में लिया है और एक आरोपी फरार बताया जा रहा है, वहीं आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर मृतक के परिजनों द्वारा असंतोष जाहिर करने के बाद इस मामले को लेकर एसआईटी का गठन करके नए सिरे से खोजबीन की जा रही है। तो दूसरी ओर बीती रात हुई इस घटना ने लोगों को यह सोचने पर मजबूर कर दिया है कि कहीं किसी साजिश के तहत लैलूंगा के मित्तल परिवार को ही निशाना तो नहीं बनाया जा रहा है।

‘छत्तीसगढ़’ ने इस संबंध में जब थाना प्रभारी लैलूंगा रूपेन्द्र नारायण साय से चर्चा की तो उनका कहना था कि इस मामले में सीसीटीवी फुटेज का सहारा लिया जा रहा है, जिसमें दो आरोपी दुकान में घुसते व निकलते देखे गए हैं। उन्होंने कहा कि चोर जल्द ही पुलिस गिरफ्त में होंगे।

अन्य पोस्ट

Comments