कोण्डागांव

अतिसंवेदनशील कड़ेनार के 4 का एक दिन में बना दिव्यांगता प्रमाण पत्र, मिली ट्रायसाईकिल
26-Oct-2021 7:13 PM (38)
अतिसंवेदनशील कड़ेनार के 4 का एक दिन में बना दिव्यांगता प्रमाण पत्र, मिली ट्रायसाईकिल

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 26 अक्टूबर। जिले के अतिसंवेदनशील ग्राम पंचायत कड़ेनार के आश्रित ग्राम नेडवाल कि निवासी नंगलुराम के भालू के हमले के कारण दिव्यांग होने एवं दिव्यांगता के कारण असमर्थता एवं संघर्ष की कहानी विगत दिनों विभिन्न समाचार पत्रों द्वारा प्रकाशित की गई थी एवं स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश बागड़े द्वारा कड़ेनार पंचायत अंतर्गत अन्य दिव्यांग हितग्राहियों का विकलांगता प्रमाण पत्र न बने होने के संबंध में कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा को जानकारी प्रदान की गई थी। जिसपर कलेक्टर द्वारा संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य विभाग एवं समाज कल्याण विभाग को संबंधित व्यक्ति एवं अन्य ग्रामीणों की हरसंभव मदद हेतु निर्देशित किया था।

इसके तहत् शुक्रवार को सामाजिक कार्यकर्ता द्वारा ग्राम पंचायत कड़ेनार निवासी चार दिव्यांगों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया था। जहां डॉक्टरों द्वारा सभी का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए उन्हें स्वास्थ्य संबंधी सलाह भी दी गई।

इस संबंध में सिविल सर्जन संजय बसाख ने बताया कि नेडवाल निवासी नंगलुराम के संबंध में जानकारी प्राप्त होने पर कलेक्टर के निर्देश पर नंगलुराम से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया था। जिसमें जानकारी प्राप्त हुई कि नंगलुराम द्वारा आठ वर्ष पूर्व विकलांगता प्रमाण पत्र हेतु प्रयास किया गया था। उसके पश्चात् वे आवाजाही के साधन न होने एवं पहुंचविहीन रास्तों की वजह से पुन: नहीं आ पाये थे। इसके अतिरिक्त उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत कड़ेनार के चारों हितग्राहियों का दिव्यांगता प्रमाण पत्र एक दिवस के भीतर निर्माण कर दिया गया है। दिव्यांगता प्रमाण पत्र निर्माण की प्रक्रिया कुछ वर्षों से बहुत सरल कर दी गई है। इसके अलावा सभी चारों हितग्राहियों नंगलुराम सोढ़ी, पोहाडू राम, दन्दूराम नेताम, नीलावती सोढ़ी को समाज कल्याण विभाग द्वारा चलने में सहायता प्रदान करने के लिये ट्रायसाईकिल भी प्रदान की गई। सभी हितग्राहियों द्वारा प्राप्त सहायता के लिए जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया गया है। उन्होंने कहा कि उनका दिव्यांगता प्रमाण पत्र बन जाने से अब वे शासकीय योजनाओं का लाभ ले सकेंगे।

 

अन्य पोस्ट

Comments