कोण्डागांव

नवंबर से धान खरीदी प्रारंभ करें राज्य सरकार - लता उसेंडी
27-Oct-2021 9:08 PM (37)
नवंबर से धान खरीदी प्रारंभ करें राज्य सरकार - लता उसेंडी

 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 27 अक्टूबर। जिला मुख्यालय स्थित विकास नगर स्थानीय अटल सदन जिला भाजपा कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य और प्रदेश उपाध्यक्ष लता उसेंडी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में धान की फसल तकरीबन तैयार है, लेकिन शासन द्वारा इस सत्र में इसकी खरीदी को लेकर किसी तरह की घोषणा नहीं किये जाने से किसानों में बेचैनी है।

सर्वविदित है कि प्रदेश में मुख्य रूप से महामाया और सरना दो किस्म के धान की खेती होती है। महामाया धान की फसल की कटाई का काम जहां नवंबर के पहले सप्ताह में पूरी हो जाती है, वहीं सरना की कटाई भी पहले सप्ताह में ही शुरू हो जाएगी। किसानों को कटाई और मिजाई के लिए भी पैसे की ज़रूरत होती है, लेकिन अभी तक शासन द्वारा धान खरीदी का कार्यक्रम घोषित नहीं किया गया है, इसके साथ ही हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार दीपावली पहले सप्ताह में ही होने के कारण किसानों को पैसों की सबसे अधिक जरुरत पड़ती है। धान खरीदी हर हाल में एक नवंबर से प्रारंभ करें।

इस दौरान मांग की गई कि धान की पूरी कीमत का भुगतान एक मुश्त हो। पिछला बकाया भुगतान तुरंत हो। केंद्र द्वारा एमएसपी में लगातार किये गए वृद्धि का लाभ किसानों को देना सुनिश्चित हो। गिरदावरी के बहाने रकबा कटौती पर पूरी तरह रोक लगाए जाएं। कांग्रेस की घोषणा के अनुरूप किसानों का दाना-दाना धान खरीदे जाएं।

घोषणा पत्र में किये वादे अनुसार किसानों को दो वर्ष का बकाया बोनस दिए जाये। कांग्रेस सरकार अपने वादे के अनुसार धान का 25 सौ रूपये प्रति क्विंटल कीमत एक मुश्त तो नहीं दे रही है, ऊपर से केंद्र द्वारा हर सत्र में जो समर्थन मूल्य बढाया जा रहा है, उसका भी लाभ किसानों को नहीं मिल रहा रहा है । पिछले सत्रों में केंद्र ने धान के समर्थन मूल्य में करीब 300 रूपये की वृद्धि की है। इस अनुपात में प्रदेश के किसानों को अगले फसल के लिए न्यूनतम 2800 रूपये प्रति क्विंटल धान की कीमत एक मुश्त देने की घोषणा करना चाहिए।

इस दौरान नगर पालिका अध्यक्ष हेम कुंवर पटेल, गोपाल दीक्षित जितेंद्र सुराना रौनक दीवान जैनेंद्र सिंह ठाकुर कुलवंत चहल विक्की रवानी विश्वजीत चक्रवर्ती व विकास दुआ एवं अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments