कांकेर

हम सब संविधान के अनुसार चलें और उसका पालन करें- शिशुपाल
28-Nov-2021 9:53 PM (40)
हम सब संविधान के अनुसार चलें और उसका पालन करें- शिशुपाल

संविधान दिवस पर समारोह आयोजित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कांकेर, 28 नवंबर।
बाबा साहब स्मारक समिति कांकेर एवं सर्व समाज के संयुक्त तत्वावधान में आज संविधान दिवस को समारोह पूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने भारतीय संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  शिशुपाल शोरी थे तथा अध्यक्षता जिला पंचायत के अध्यक्ष  हेमंत धु्रव ने की। जिला पंचायत के उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, जनपद पंचायत कांकेर के उपाध्यक्ष रोमनाथ जैन, पार्षद नरेश बिछिया विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कलेक्टर  चन्दन कुमार, न्यायाधीश डायमंड गिलहरे, अपर कलेक्टर एस.पी. वैद्य भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी ने कहा कि भारतीय संविधान दुनिया का श्रेष्ठतम संविधान में से है। इसका प्रस्तावना संविधान की आत्मा है, भारतीय संविधान में सभी समस्याओं का समाधान निहित है। हम सब संविधान के अनुसार चलें और उसका पालन करें। संविधान में कार्यपालिका, व्यवस्थापिका एवं न्यायपालिका के अधिकार एवं कत्र्तव्यों का स्पष्ट उल्लेख करते हुए लोक कल्याणकारी राज्य की कल्पना की गई है। उन्होंने इस अवसर पर संविधान दिवस की बधाई एवं शुभकामनाऐं भी दी।

कलेक्टर चन्दन कुमार ने कहा कि आज ही के दिन भारतीय संविधान को अंगीकार एवं आत्मसमर्पित किया गया था। हमारा संविधान केवल शासन चलाने का सूत्र भर नहीं है बल्कि यह सभी नागरिकों को समान अधिकार प्रदान करता है, कोई भी व्यक्ति कितना भी गरीब क्यों न हो, लोकतांत्रिक व्यवस्था में उसको भी अन्य नागरिकों के समान अधिकार प्राप्त है। एक निर्धन व्यक्ति भी अपनी योग्यता के आधार पर देश के सर्वोच्च पद पर आसीन हो सकता है। भारतीय संविधान के निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने संविधान मेंं महिलाओं को भी बराबरी का अधिकार प्रदान किया है। संविधान के संरक्षण की जिम्मेदारी हम सबकी है। हमारी तत्परता किसी व्यक्ति के प्रति नहीं बल्कि संविधान में होना चाहिए।

 न्यायाधीश डायमंड गिलहरे ने भी संविधान दिवस पर आयोजित समारोह को संबोधित किया। उन्होंने संविधान के विभिन्न उपबंधों जैसे आर्टिकल 17, 15, 16 इत्यादि की जानकारी देते हुए कहा कि 75 वर्ष बाद भी हमारा संविधान आज भी प्रासंगिक एवं उपयोगी है।

समारोह में अम्बेडकर स्मारक समिति के अध्यक्ष राजेन्द्र कुमार बोरकर एवं बलदेव नायक, सतनामी समाज के अध्यक्ष अमृतलाल मौर्य, अनकुरी गांड़ा समाज के प्रातांध्यक्ष प्रदीप कुलदीप एवं गांड़ा समाज से पप्पू मरकाम, बया महार समाज से एम.आर. सोरदे, साहू समाज से गिरवर साहू, रतन टांडिया, पवन गढ़पाले, रतन गढ़पाले सहित सर्व समाज के प्रतिनिधि उपस्थित थे। मंच  संचालन जिला शिक्षा अधिकारी आर.पी. मिरे ने किया।

अन्य पोस्ट

Comments