दुर्ग

दोनों पार्टियों में बगावत का डर बरकरार, कांग्रेस की घोषणा जल्द, कैंडिडेट्स लिस्ट में बीजेपी के पिछड़ने की संभावना
29-Nov-2021 9:54 PM (65)
दोनों पार्टियों में बगावत का डर बरकरार, कांग्रेस की घोषणा जल्द, कैंडिडेट्स लिस्ट में बीजेपी के पिछड़ने की संभावना

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
भिलाई नगर, 29 नवंबर।
दुर्ग जिले में निकाय चुनाव के चलते कांग्रेस-भाजपा दोनों ही पार्टियां पार्षद प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने माथा पच्ची में जुट गई हैं। स्थानीय वरिष्ठ नेता को तवज्जो देते हुए दोनों ही पार्टियों के प्रभारी प्रत्याशी चयन प्रक्रिया में जहां मशगूल हैं वहीं दावेदार भी शक्ति प्रदर्शन और अपनी पहुंच दिखाकर नाम फाइनल कराने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे है।

सूत्रों से खबर है कि कल-परसों कांग्रेस प्रत्याशियों के नाम की लिस्ट जारी करेगी जबकि भाजपाई अभी बैठक ही कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी से जिले के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर, गिरीश देवांगन सहित गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू और मंत्री गुरु रुद्र कुमार ने दावेदारों से आवेदन लेकर उनके बारे में मंथन कर लिया है। दावेदारों की लिस्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेज भी दी गई है। दावेदारों के नाम फाइनल करने को लेकर कल रायपुर में प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अहम् बैठक भी है। यहां से प्रत्याशियों के नाम तय होने के बाद उनकी लिस्ट जारी की जा सकती है।

तीनों नगर निगम में रिसाली निगम के 40 वार्डों के लिए सबसे अधिक 266 उम्मीदवारों ने अपनी दावेदारी पेश की है।रिसाली और भिलाई 3 चरौदा नगर निगम के लिए प्रत्याशियों से आवेदन लेकर उनके नाम पर मंथन किया गया है। यहां 40-40 वार्डों के दावेदारों ने अपने नाम का आवेदन मंत्री मो. अकबर, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और मंत्री गुरु रुद्र कुमार को दिया है। चुनावी गलियारे से यह भी स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस और भाजपा दोनों पार्टियों में दावेदार टिकट न मिलने पर बगावत का मन भी बना चुके हैं। कुछ दावेदारों का कहना है कि इतने साल वह चुपचाप पार्टी के लिए काम करते रहे है, यदि इस बार मौका नहीं मिला तो वह निश्चित रूप से निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। यदि ऐसा हुआ तो जिस भी पार्टी से कोई धड़ा अलग हुआ उसे उस वार्ड में नुकसान हो सकता है वहीं पूर्व में विजयी प्रत्याशी वार्ड आरक्षण से प्रभावित हो बगल के वार्ड से टिकट देने दबाव बना रहे हैं जबकि पराजित प्रत्याशी भी पुनः तैयारी का ढोल पीटते शक्ति प्रदर्शन कर चुके हैं, इनके भी बगावत की संभावना बलवती है।

अन्य पोस्ट

Comments