सरगुजा

धान खरीदी महाभियान शुरु, उपार्जन केंद्रों में पूजा-अर्चना के साथ धान खरीदी शुरू
01-Dec-2021 8:12 PM (44)
धान खरीदी महाभियान शुरु, उपार्जन केंद्रों में पूजा-अर्चना के साथ धान खरीदी शुरू

समितियों में ट्रैक्टर-ट्रॉली और बैलगाड़ी से धान लेकर पहुंचे किसान

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
अम्बिकापुर,1 दिसंबर।
समर्थन मूल्य पर धान खरीदी महाअभियान का प्रदेशव्यापी आगाज 1 दिसम्बर को हो गया। जिले के उपार्जन केंद्रों में पूजा-अर्चना के साथ धान खरीदी का शुभारंभ हुआ। धान खरीदी शुरू होने से समर्थन मूल्य पर धान बेचने किसानों में खुशी की लहर दौड़ गई। समितियों में खरीदी व्यवस्था से किसान संतुष्ट नजर आए। पहले दिन के लिए टोकन कटवाने वाले किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली व बैलगाड़ी से धान लेकर उपार्जन केंद्र पहुंचे। पहले दिन की खरीदी के लिए 391 किसानों को टोकन जारी किया गया है, जिनसे करीब 17 हजार 560 क्विंटल धान की खरीदी होगी।

लुण्ड्रा तहसील के सहनपुर उपार्जन केन्द्र में धान बेचने आए घंघरी निवासी किसान मनसाय तिर्की ने बताया कि 110 बोरी धान लेकर आए हैं। टोकन लेने तथा धान बेचने में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं आई। उन्होंने बताया कि समिति द्वारा उपार्जन केन्द्र में अच्छी व्यवस्था की है। इसी प्रकार पटोरा निवासी किसान श्री शिवशंकर ने 90 बोरी तथा अगासी निवासी किसान श्री रामकिशोर ने 100 बोरी धान बेचा।

कलेक्टर संजीव कुमार झा के मार्गदर्शन में जिले में धान खरीदी की व्यापक तैयारी की गई है। इस वर्ष समर्थन मूल्य में धान बेचने 49 हजार 324 किसानों ने पंजीयन कराया है जिनसे करीब 2 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की जाएगी। अवकाश के दिनों को छोडक़र सोमवार से शुक्रवार तक धान की खरीदी की जाएगी। खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में कॉमन धान का समर्थन मूल्य 1940 रुपये तथा धान ग्रेड-ए का 1960 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है।

कलेक्टर-एसपी ने लुण्ड्रा विकासखंड के 4 खरीदी केंद्रों का किया निरीक्षण
प्रदेशव्यापी धान खरीदी के पहले दिन कलेक्टर संजीव कुमार झा एवं पुलिस अधीक्षक अमित तुकाराम कांबले ने लुंड्रा विकासखंड के 4 धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने खरीदी की तमाम व्यवस्थाओं का बारीकी से मुआयना करते हुए समिति प्रबंधकों को निर्देशित किया कि धान खरीदी में लघु एवं सीमांत किसानों को प्राथमिकता देते हुए पहले टोकन जारी करें।

कलेक्टर ने बलरामपुर जिले से लगे लुण्ड्रा विकासखंड के धौरपुर, डूमरडीह, सहनपुर तथा ससौली धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण किया। धान खरीदी केंद्रों में आवश्यक मूलभूत संसाधनों के संबंध में पूछताछ की। इस दौरान कलेक्टर ने खरीदे गए धान की गुणवत्ता, धान की तौल, बारदाने का वजन, नमी की मात्रा, टोकन काटना, बारदाने, ट्रांसपोर्टेशन, आर्द्रतामापी यंत्र, रखरखाव, पेयजल सहित अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी ली। कलेक्टर ने सभी धान उपार्जन केंद्र में निगरानी समिति के सदस्यों तथा किसानों से धान खरीदी के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

उन्होंने कहा कि किसानों को धान बेचने के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या नही होनी चाहिए। उनकी सुविधा का विशेष ध्यान रखा जाए। खरीदी केंद्रों में बिचौलियों की घुसपैठ को रोकनी है। उन्होंने खरीदी केन्द्रों में सतत रूप से व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने धान बेचने आए किसानों से चर्चा करते हुए कहा कि धान बेचने में उन्हें किसी प्रकार की समस्या तो नहीं हो रही है। इस दौरान उन्होंने किसानों के ऋण पुस्तिका एवं समिति में उपलब्ध दस्तावेज का मिलान किया और धान वजन करके भी देखा।

अन्य पोस्ट

Comments