राजनांदगांव

महाराष्ट्र के जंगल में पहुंचा हाथी दल
13-Aug-2022 11:57 AM
महाराष्ट्र के  जंगल में पहुंचा हाथी दल

मानपुर से सटे गढ़चिरौली के मुरूमगांव को बनाया नया ठिकाना
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 12 अगस्त।
मोहला-मानपुर के जंगल में हिंसक घटनाओं से उत्पात मचाने के बाद हाथियों का झुंड महाराष्ट्र की सीमा पर दाखिल हो गया है। हाथी दल के पड़ोसी जिले गढ़चिरौली में पहुंचने की खबर से वन अमले ने राहत की सांस ली है। दूसरे राज्य में चले जाने के बाद भी मोहला के वन अधिकारी सीमा पर नजर रखें हुए है।

मिली जानकारी के अनुसार हाथियों के शुक्रवार देर रात को गढ़चिरौली के मुरूमगांव वन इलाके में पहुंचा। यह इलाका मानपुर के घने जंगल बुकमरका से सटा हुआ है। हाथियों ने मानपुर इलाके में गांवो के जमकर उपद्रव मचाया। दो दिन पहले भैसबोंड के जंगल में दो ग्रामीणों को हाथियों ने  कुचल दिया। इस हादसे के बाद से वनबांशिदों में जानमाल को लेकर चिंता है।

बताया जा रहा है कि हाथियों के उत्पात से कई ग्रामीणों के आशियानें और संपत्ति तबाह हो गई है। वन अमले की भरसक कोशिशों के बाद भी हाथी दल बेकाबू हालत में रहा। हालांकि गढ़चिरौली मेें दाखिल होने से अफसरों को थोड़ी राहत जरूर मिली है। वन अफसरों की ओर से ग्रामीणों को हाथी से दूर रहने की समझाइश दी जा रही है। इस बीच हाथियों ने गुजरे 20 दिनों में खडग़ांव से मोहला के पानाबरस जंगल में विचरण के दौरान कई मकानों को क्षतिग्रस्त किया।

पानाबरस के जंगल  में भैंसबोड़ वनबीट में दो लोगों को कुचल दिया। पिछले साल भी हाथियों ने तकरीबन इसी रास्ते से महाराष्ट्र का रूख किया था। वन अफसरों को मानना है कि हाथियों ने इस इलाके को अपना रास्ता बना लिया है। महाराष्ट्र में कुछ माह रहने के बाद हाथी दल इसी मार्ग से वापस लौट सकता है।  

इस संबंध में मानपुर वन एसडीओ एएल खूंटे ने ‘छत्तीसगढ’ से चर्चा  में बताया कि हाथी महाराष्ट्र सीमा पर है। मैदानी वनकर्मी हाथियों की सत्त निगरानी कर रहे है। इस बीच गांवों में रात गुजारना ग्रामीणों के लिए मुश्किल हो गया था। महाराष्ट्र में जाने से फिलहाल लोगों ने भी राहत की सांस ली है।

 

 

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news