रायपुर

प्लांट में कबाड़ गलाते शॉकप फटा, झारखंड के मजदूर की मौत, साक्ष्य मिटाने पुलिस को बताया भी नहीं
08-Dec-2022 5:58 PM
प्लांट में कबाड़ गलाते शॉकप  फटा, झारखंड के मजदूर की मौत, साक्ष्य  मिटाने पुलिस को बताया भी नहीं

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 8 दिसंबर। राजधानी के औद्योगिक क्षेत्रों में हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। एक बार फिर सिलतरा के एक प्लांट में संचालकों की लापरवाही नजर आई। बुधावर को सिलतरा के मारूति प्लांट में एक और श्रमिक लापरवाही की भेंट चढ़ गया। वहीं थाना पुलिस को घटना क सिलतरा चौकी प्रभारी को घटना की कोई सूचना अब तक नहीं है। एक श्रमिक ने बताया कि मृतक शोएब झारखंड के पलामू जिले का निवासी था सुबह 6 बजे की शिफ्ट में काम करने आया था। भट्टी में कबाड़ में गलाने का काम करता था। कबाड़ के साथ आया एक शॉकप भी भट्टी में डालने से वह ब्लास्ट हो गया और उसका गर्म लोहा छिटककर शोएब की कनपटी के पीछे से गर्दन में जा लगा। घटना के बाद उसे अस्पताल ले गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के मुताबिक, मृतक शोएब के पिता का बहुत समय पहले निधन हो चुका है। पिता की मृत्यु के बाद वृद्ध मां पत्नी और 6 साल की एक बच्ची का खर्च चलाने मृतक मेहनत मजदूरी कर घर पैसे भेजता था। उसका पूरा परिवार झारखंड के पलामू जिले के एक गांव में रहता है। शव को पोस्टमार्ट्म के बाद परिवार वालों को सौपा गया। इस मामले में लेबर ठेकेदार एके सिंह ने बताया कि घटना सुबह साढ़े सात बजे हुई। स्थानीय पुलिस थाना धरसीवां को उन्होंने सूचना दी है।

इस मामले को लेकर श्रमिक नेता राजसिंह हाड़ा ने कहा कि, क्षेत्र के अधिकांश उद्योगों में स्वस्थ्य एवं सुरक्षा की अनदेखी के चलते आए दिन हादसे होते हैं, और गरीब श्रमिक अपनी जान गंवाते हैं। उन्होंने कहा कि परिचितों के माध्यम से उन्हें भी ज्ञात हुआ है कि कबाड़ में आया शॉकव भट्टी में जाने से ब्लॉस्ट हुआ और गर्म लोहा छिटककर उसकी गर्दन में पीछे जा घुसा, जिसके कारण उसकी मृत्यु हुई. ऐंसी घटनाओं के बाद सबसे पहले स्थानीय पुलिस को सूचना देना चाहिए, ताकि पुलिस घटनास्थल का मुआयना कर घटना के कारणों का खुलासा करे। लेकिन जानबूझकर स्थानीय पुलिस को तत्काल सूचना नहीं देते, ताकि मौके से साक्ष्य मिटाए जा सकें।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news