रायगढ़

अवैध हथियार बेचने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का एक और आरोपी गिरफ्तार
28-Jan-2023 6:40 PM
अवैध हथियार बेचने वाले अंतरराज्यीय   गिरोह का एक और आरोपी गिरफ्तार

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
रायगढ़, 28 जनवरी।
पिछले महीने 16 दिसंबर को साइबर सेल और जूटमिल पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा मुखबीर सूचना पर आरोपी नरेश उर्फ नानू यादव को देशी पिस्टल के साथ पकड़ा गया था। आरोपी के पास से मिले अवैध हथियार को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना ने आरोपी द्वारा कहां से हथियार खरीदी किया गया इसकी आगे तस्दीक के लिए एडिशनल एसपी संजय महादेवा, सीएसपी रायगढ़ अभिनव उपाध्याय एवं साइबर सेल की टीम को लगाया गया।

साइबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल ने वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन पर आरोपी नरेश उर्फ नानू यादव पर आम्र्स एक्ट की धारा 25 के तहत कार्रवाई कर आरोपी से पूछताछ कर जांच कार्रवाई आगे बढ़ाया। आरोपी से मिली कि  उसने स्थानीय युवक यूसुफ हुसैन चांदनी चौक बाबूपारा के पास से 1 पिस्टल और 3 राउंड को 8-9 माह पहले 50 हजार में खरीदा था। यूसुफ हुसैन पकड़े जाने के डर से लुक-छिप रहा था। जिसे 21 दिसंबर की शाम अवैध हथियारों के मुख्य सप्लायर एजाज उर्फ राजू निवासी पलामू झारखंड के साथ हथियार समेत रेलवे स्टेशन के पास पकड़ा गया था। दोनों रायगढ़ से कोलकाता और कोलकाता से बांग्लादेश की ओर फरार होने की फिराक में रेलवे स्टेशन के पास घूम रहे थे। दोनों आरोपियों के मेमोरेंडम पर आरोपी युसूफ से एक पिस्टल और दो राउंड तथा आरोपी एजाज अंसारी से एक पिस्टल और तीन राउंड जब्त किया गया था। जांच कार्रवाई में आरोपियों से विस्तृत पूछताछ पर एजाज उर्फ राजू निवासी पलामू झारखंड द्वारा पलामू झारखंड के कवीश्वर उर्फ कवि भैया उर्फ कबीर मेहता से अवैध हथियार खरीदना बताया था।

पुलिस टीम पतासाजी के लिए झारखंड रवाना हुई। जहां पलामू और गढ़वा जिले में आरोपी कविश्वर को हिरासत में लिया गया जिसने पूछताछ पर आरोपी एजाज अंसारी उर्फ राजू को हथियार बेचना कबूल घटना के संबंध में बताया कि जल्द से जल्द रुपए कमाने के लालच में उसने अवैध हथियार बेचने का काम शुरू किया था।

शुरुआती समय में गढ़वा में 9 हजार में पिस्टल खरीद कर 11 हजार में बेचा करता था, आगे चलकर यह एक पिस्टल में 10 से 12 हजार कमाना शुरू कर दिया और इस प्रकार अलग-अलग व्यक्तियों को गोपनीय तरीके से हथियार बेचा कर रहा था। इसी दौरान डाल्टनगंज में राजू उर्फ एजाज अंसारी से मुलाकात हुआ जिसके साथ मोबाइल व्हाट्सएप कॉलिंग और चैटिंग से बात होती थी। पिछले साल दिसंबर माह में राजू आकर पहचान के लोगों को पिस्टल खरीद कर देना है बोला था। राजू से सौदा तय होने पर 5 पिस्टल 15- 15 हजार में और 32 राउंड प्रति नग 400 में बिक्री किया था। 

सोशल मीडिया से इसे पता चला कि राजू उर्फ एजाज अंसारी को रायगढ़ पुलिस पकड़ कर जेल भेज दी है तो पकड़े जाने के डर से हथियार खरीदी बिक्री का काम बंद कर दिया था और चेन्नई अपना इलाज कराने गया हुआ था वापस लौटने के बाद रायगढ़ पुलिस की टीम पकड़ी ली। आरोपी कबीर मेहता ने पूछताछ में सूरजपुर के बलिंदर राजवाड़े को 1 कट्टा और 3 राउंड बेचना बताया। 

आरोपी बलिंदर राजवाड़े की पतासाजी के लिए सूरजपुर गई और  वहां  से उसे हिरासत में लिया गया। उसने पूछताछ में बताया कि ठेकेदारी का काम करता है, रुपयों के लेन-देन को लेकर आना-जाना करता है इस कारण स्वयं की सुरक्षा के लिए एजाज के माध्यम से कवीश्वर से 1 नग कट्टा और 3 राउंड खरीदा था। दोनों आरोपियों को थाना जूटमिल (कोतवाली) के अपराध धारा 25 आम्र्स एक्ट में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। 

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news