गरियाबंद

जतमई मंदिर की दानपेटी तोडक़र चोरी घटनास्थल पर मिले खून के छींटे
18-Jun-2024 3:28 PM
जतमई मंदिर की दानपेटी तोडक़र चोरी घटनास्थल पर मिले खून के छींटे

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजिम, 18 जून।  गरियाबंद जिले में स्थित प्रसिद्ध जतमई मंदिर में एक बार फिर चोरी की घटना सामने आई है। रविवार और सोमवार की मध्य रात्रि चोर ने मंदिर के दान पेटी तोडक़र चोरी की इस घटना को अंजाम दिया है। सोमवार सुबह पुजारी जब मंदिर के पट खोलने पहुंचा तब इस बात की जानकारी हुई। जिसके बाद घटना की जानकारी मंदिर समिति और पुलिस को दी गई।

जानकारी के अनुसार जतमई मंदिर परिसर स्थित महाकाल मंदिर के गर्भ गृह में रखे दान पेटी को चोर ने तोडक़र चढ़ोत्री के पैसे चुरा लिए। दान पेटी का पीछे भाग कांच से ढका हुआ है। जिससे रुपये आर-पार दिखाई दे रहे थे। जिसे चोर ने पत्थर से तोडक़र चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। दान पेटी से लेकर मंदिर परिसर के बाहर तक खून के छीटें भी पड़े हुए है। आशंका जताई जा रही है कि चोरी के वक्त चोर के हाथ कांच से कट गए होंगे जिससे यह खून फैला है।

जांच के लिए पहुंची डॉग स्कवाड की टीम

मंदिर के पुजारी सुबह जब महाकाल की पूजा करने पहुंचे तो सामने का दरवाजा जो चुनरी से बांधा गया था वह आधा खुला और मंदिर के गर्भ गृह में रखा हुआ दान पेटी टूटा हुआ था। पुजारी ने घटना की जानकारी मंदिर समिति के सदस्यों और छूरा थाना को दी। सूचना पर थाना प्रभारी सहित पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। मामले की जांच के लिए डॉग स्कवाड की टीम को भी बुलाया गया। मौके पर पहुंचे डॉग स्क्वायड की टीम महाकाल मंदिर से लेकर ऊपर मेन रोड दुकान फिर भंडारा से होते हुए फिर उसी स्थान पर वापस पहुँच गई।

मंदिर में लगे सीसीटीवी बंद हालत में

इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि चोर बाहर का नहीं है। चूंकि जतमई मंदिर में यह चोरी की पहली घटना नहीं है इससे पहले भी इस तरह की वारदात हो चुकी है। चोर ने सीसीटीवी कैमरे को कपड़े से ढक दिया था। हालांकि जतमई प्रांगण में लगे सीसीटीवी कैमरे उस समय बंद स्थिति में था।

मामले की लेकर थाना प्रभारी छुरा दिलीप मेश्राम ने बताया कि राम जी गाड़ा द्वारा मंदिर में चोरी की शिकायत की गई थी। मौके पर डॉग स्कवाड की टीम को भी बुलाया गया था। जांच जारी है। अभी कोई तथ्य सामने नहीं आया है। सीसीटीवी कैमरा को जल्द समिति द्वारा ठीक करवाने कहा गया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news