सूरजपुर

विश्रामपुर, आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया
विश्रामपुर, आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया
Date : 07-Nov-2019

आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
विश्रामपुर, 7 नवंबर।
सूरजपुर जिले के आरटीओ टीम ने अभियान चलाकर बिना वैध दस्तावेज के सड़क पर दौड़ रही एसईसीएल की तीन स्कूल बसों सहित आठ वाहनों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त कर बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द किया है। जब्त किए गए सभी वाहन या तो एसईसीएल के हैं अथवा एसईसीएल प्रबंधन द्वारा अनुबंधित हैं।

एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्र की अधिकांश स्कूल बसों के सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए बिना वैध दस्तावेज के स्कूल एवं कालेज के छात्र-छात्राओं को लाने ले जाने के परिवहन कार्य में लगे होने की शिकायतें लगातार प्रकाश में आ गई थी। इसी के मद्देनजर बुधवार को सूरजपुर के जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैया ने आरटीओ विभाग की टीम के साथ आकस्मिक जांच अभियान चलाते हुए बिना वैध दस्तावेज के सड़कों पर दौड़ रही एसईसीएल एवं एसईसीएल प्रबंधन द्वारा अनुबंधित आठ वाहनों के विरुद्ध मोटर व्हीकल एक्ट की धारा के अंतर्गत वाहनों की जब्ती कार्रवाई की गई है। आरटीओ द्वारा जब्त वाहनों में एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्र की स्कूल बस सहित एसईसीएल बिश्रामपुर क्षेत्रीय प्रबंधन द्वारा अनुबंधित निजी स्कूल बस कोयला कामगारों को कार्यस्थल पर लाने एवं ले जाने के लिए अनुबंधित निजी बस शामिल हैं, जिन्हें मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्ती के बाद आरटीओ ने बिश्रामपुर पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। आरटीओ की इस कार्रवाई से एसईसीएल महकमे में खलबली मच गई है। ज्ञात हो कि इसके पूर्व भी आरटीओ विभाग द्वारा लंबे समय से बिना वैध दस्तावेज के सड़कों पर दौड़ रही एसईसीएल की स्कूल बच्चों को मोटर व्हीकल एक्ट के तहत जब्त किया गया था। उसके एवज में एसईसीएल प्रबंधन को भारी जुर्माना अदा करना पड़ा था। इस कार्रवाई में परिवहन विभाग के उप निरीक्षक राजेंद्र वर्मन एवं परिवहन विभाग की टीम सक्रिय रही।

 

Related Post

Comments