गरियाबंद

गरियाबंद, जिपं सीईओ ने किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण, 6 पंचायत सचिव निलंबित
गरियाबंद, जिपं सीईओ ने किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण, 6 पंचायत सचिव निलंबित
Date : 21-Mar-2020

जिपं सीईओ ने किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण, 6 पंचायत सचिव निलंबित 

गरियाबंद, 21 मार्च। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत गरियाबंद विनय कुमार लंगेह द्वारा 18  मार्च को जनपद पंचायत मैनपुर अंतर्गत ग्राम पंचायतों में मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना के तहत निर्मित सी.सी सडक़ निर्माण कार्यों का औचक निरीक्षण किया गया। ग्राम पंचायत जाड़ापदर एवं गोपालपुर के सचिवों द्वारा कार्य की अंतिम किश्त की राशि प्राप्त करने के उद्देश्य से सीसी सडक़ निर्माण कार्य के बोर्ड का कूटटरचित कम्प्यूटराईज्ड फोटोग्राफ लगाया गया था। जिसके कारण ग्राम पंचायत जाड़ापदर का सचिव  त्रिवेन्द्र नागेश एवं ग्राम पंचायत गोपालपुर के सचिव दशरुराम जगत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया।

उनके द्वारा जनपद पंचायत छुरा अंतर्गत मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजनांतर्गत ग्राम पंचायतों में बने सीसी रोड निर्माण कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। ग्राम पंचायत पक्तियां, ग्राम पंचायत बोडराबांधा  ब एवं ग्राम पंचायत कोसमी के ग्राम पंचायत सचिव द्वारा सीसी रोड निर्माण कार्य का पूर्णता प्रमाण पत्र में अंतिम किश्त की राशि प्राप्त करने के उद्देश्य से बोर्ड निर्माण का कम्प्यूटराईज्ड फोटो लगाया गया। जबकि उक्तानुसार वास्तविक कार्य स्थल में बोर्ड निर्माण नहीं पाया गया। इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत द्वारा ग्राम पंचायत कोसमी के सचिव कांशीराम साहू, ग्राम पंचायत बोडऱाबांधा (ब) के सचिव  खोमेश्वरी साहू एवं ग्राम पंचायत पंक्तियां के सचिव गजेन्द्र कुमार साहू को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए निलंबन आदेश जारी कर दिया गया है ।

इसी अनुकम में उनके द्वारा जनपद पंचायत फिंगेश्वर के ग्राम पंचायतों का निरीक्षण किया गया। ग्राम पंचायत सिरीखुर्द के ग्राम पंचायत सचिव के द्वारा सी.सी.रोड निर्माण कार्य में अनियमितता किये जाने, पूर्णता प्रमाण पत्र में अंतिम किश्त प्राप्त करने के उददेश्य से बोर्ड निर्माण कम्प्यूटराईज्ज प्रस्तुत करने एवं बिना अनुमति के कार्यस्थल में परिवर्तन किये जाने के फलस्वरूप ग्राम पंचायत सिरीखुर्द के सचिव सोनाराम वर्मा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया तथा कार्यों की जाँच हेतु जिला स्तर पर जांच समिति गठित की गई है।
इसी तारतम्य में जनपद पंचायत मैनपुर के 02 उप अभियंताओं तथा जनपद पंचायत छुरा के 03 और जनपद पंचायत फिंगेश्वर के 01 उपअभियंता तथा जनवपद पंचायत मैनपुर, छुरा एवं फिंगेश्वर के 04 अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।

 

Related Post

Comments