दुर्ग

भिलाई नगर, डीएमएफ मद से खरीदी गई 5 एंबुलेंस कोरोना से निपटने बनी संजीवनी
भिलाई नगर, डीएमएफ मद से खरीदी गई 5 एंबुलेंस कोरोना से निपटने बनी संजीवनी
23-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
दुर्ग /भिलाई नगर, 23 मई।
पिछले साल डीएमएफ की बैठक में स्वास्थ्य सुविधाओं को अग्रणी रखने के लिए लाये गए प्रस्तावों का लाभ अब नजर आने लगा है। पिछले साल की बैठक में प्रमुख स्वास्थ्य केंद्रों में एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया था और इसके अंतर्गत पांच एंबुलेंस का क्रय लगभग 58 लाख रुपए की लागत से किया गया था। इनके क्रय किये जाने से कोरोना संकट की उपयोगिता में इनकी भूमिका साबित हुई है। कोरोना पीडि़तों को एंबुलेंस के माध्यम से रायपुर एम्स पहुंचाने, आइसोलेशन के लिए रखे जाने वाले मरीजों को तुरंत आइसोलेशन केंद्र पहुंचाने में एवं स्वास्थ्य अमले द्वारा मौके पर पहुंच कर व्यापक स्वास्थ्य जांच अभियान करने में इनकी बड़ी भूमिका रही है। 

जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गंभीर सिंह ने बताया कि डीएमएफ के माध्यम से अधोसंरचना को बेहतर करने में बड़ी मदद मिली है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में रिस्पांस का महत्व काफी होता है। किसी मरीज की जानकारी मिलती है और आप उस तक कितने तेजी से अपनी पहुंच बना पाते हैं और उसको केयर देना आरंभ करते हैं इस कार्य में आपकी सफलता निहित है। इन एंबुलेंस के माध्यम से बड़ी मदद मिली है क्योंकि स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी चुनौती रहती है। कोरोना के साथ ही हम लोग डेंगू नियंत्रण के लिए भी काम कर रहे हैं। बड़ा स्वास्थ्य अमला चैबीस घंटे सक्रिय है इसके साथ ही हमें यह भी ध्यान में रखना है कि रूटीन में आने वाले गंभीर मरीजों को भी एंबुलेंस की सुविधा मिल सके। 

डीएमएफ के माध्यम से यह पहल हुई और इससे जिले में अधोसंरचना काफी उन्नत हुई। उल्लेखनीय है कि पिछले साल डीएमएफ में सबसे ज्यादा स्वास्थ्य की बेहतरी पर जोर दिया गया था। स्वास्थ्य पर प्रशासन के पूरे फोकस का असर दिख रहा है। कोरोना संक्रमण को थामने के प्रयासों के साथ ही डेंगू के प्रभाव को भी रोकने की दिशा में इससे बड़ी मदद मिली है।
 

अन्य खबरें

Comments