राजनांदगांव

छत्तीसगढ़ की सरकार किसान हितैषी और केंद्र की मोदी सरकार किसान विरोधी - पटिला
22-Sep-2020 5:14 PM 2
छत्तीसगढ़ की सरकार किसान हितैषी और केंद्र की मोदी सरकार किसान विरोधी - पटिला

किसानों को केंद्र सरकार की कृषि अध्यादेश से कोई फायदा नहीं

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 22 सितंबर।
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव डॉ. थानेश्वर पटिला ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार किसानों को फसल उत्पादन के लिए प्रोत्साहित करने और कृषि रकबे में वृद्धि करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू की गई है। देश में किसानों के लिए यह अपनी तरह की बड़ी योजना प्रारंभ की गई है। इस योजना ने कोरोना संकटकाल में किसानों को बड़ी राहत दी है। वहीं दूसरी तरफ देश में केंद्र की मोदी सरकार कृषि अध्यादेश लाकर किसानों के साथ नाइंसाफी कर कमर तोड़ रही है।  

डॉ. पटिला ने मोदी से सवाल करते कहा कि केंद्र सरकार इसके जरिये कृषि उपज विपणन समितियों के एकाधिकार को खत्म करना चाहती है, एपीएमसी खत्म होने पर न्यूनतम समर्थन मूल्य कैसे मिलेगी? इससे किसानों को उपज का सही कीमत नहीं मिलेगा। डॉ. पटिला ने विधेयक नीतियों को लेकर सवाल करते कहा कि सरकार एक राष्ट्र, एक मार्केट बनाने की बात कर रही है, लेकिन उसे ये नहीं पता कि जो किसान अपने जिले में अपनी फसल नहीं बेच पाता है, वह राज्य या दूसरे जिले में कैसे बेच पाएगा। क्या किसानों के पास इतने साधन हैं? और दूर मंडियों में ले जाने में खर्च भी तो आएगा। किसान का पैसा फंसने पर उसे दूसरे जगह या प्रांत में बार-बार चक्कर काटने होंगे। 
 

अन्य पोस्ट

Comments