गरियाबंद

लॉकडाउन के बाद एडवाइजरी का पालन करें- रूपसिंग
24-Sep-2020 4:30 PM 6
लॉकडाउन के बाद एडवाइजरी का पालन करें- रूपसिंग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजिम, 24 सितंबर।
गरियाबंद सामाजिक कार्यकर्ता रूपसिंग साहू ने लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए जनता से अपील करते हुए कहा कि लॉकडाउन को लेकर जनता अपनी जिम्मेदारी को समझना होगा। यह तभी सफल हो सकते हैं जब वह सहयोग करें। श्री साहू ने कोरोना के चक्र ध्वस्त करने के लिए कहा कि सिर्फ लॉकडाउन से ही नहीं बल्कि लॉकडाउन के बाद एडवाइजरी का पालन करें। कोरोना जंग में तैनात पुलिस जवान एवं स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर सहित पूरा विभाग बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। जवानों एवं स्वास्थ्य विभाग में हौसला बनाए रखने के लिए उच्च अधिकारी तमाम प्रयास कर रहे हैं। साथ ही लोगों से भी सहयोग की अपील की जा रही है। जब तक आपातकालीन स्थिति ना हो घर से नहीं निकले। चौक चौराहे में बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है बेमतलब घूमते पाए जाने पर कार्यवाही होगी। अब लोगों को समझना होगा कि समाज के प्रति उनकी क्या जिम्मेदारी है क्योंकि कोरोना वायरस तेजी से लोगों को संक्रमित कर रहा है। ऐसे में अगर हम घर से बाहर जाते हैं, एडवाइजरी का पालन नहीं करते हैं तो अपने आप को खतरे में डालते ही नहीं बल्कि अपने परिवार समाज गांव को खतरे में डाल रहे हैं। इसलिए जनता से अपील है कि कोरोना वायरस से सावधानीपूर्वक उससे लडऩा है। शासन प्रशासन अपनी पूरी शक्ति के साथ कोरोना से लड़ाई लड़ रही है लोगों की सहभागिता की जंग में महत्वपूर्ण अपने घर में रह रहे सुरक्षित रहे और अपनी जिम्मेदारी समझे अकेले शासन प्रशासन और लॉक डाउन के भरोसे कोरोना समाप्त नहीं होगा। इधर राज्य में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए लोगों को इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने से लेकर संक्रमण के प्रति जागरूक करने के तमाम सरकारी प्रयासों का नेतृत्व कर रहे। इस कठिन अवसर पर एक बार फिर प्रदेश की जनता के समक्ष अपनी बात रखी। श्री साहू ने कहा कि राज्य में संक्रमण के फैलाव को देखते हुए इस बात की आवश्यकता है कि कम से कम न्यूनतम व्यवहारिक आवश्यकता को अपनाएं। जैसे हाथ को बार-बार सैनिटाइज करें, चेहरे पर मास्क लगाएं और भीड़ जगहों पर जाने से बचते हुए सामाजिक दूरी बनाए रखें। अब हमें हमें यह मान लेना चाहिए कि कोरोना या कोविड-19 अब हमारे जीवन का हिस्सा बन गया है। 
 

अन्य पोस्ट

Comments