गरियाबंद

त्रिवेणी संगम के साहित्यकारों ने दी भुनेश्वर को श्रद्धांजलि
24-Sep-2020 4:32 PM 5
त्रिवेणी संगम के साहित्यकारों ने दी भुनेश्वर को श्रद्धांजलि

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजिम, 24 सितंबर।
सामाजिक कार्यकर्ता एवं वरिष्ठ कवि भुनेश्वर साहू (85) के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए त्रिवेणी संगम साहित्य समिति राजिम नवापारा के साहित्यकारों ने श्रद्धांजलि अर्पित किया है। स्व. भुनेश्वर साहू को याद करते हुए समिति के अध्यक्ष मकसूदन साहू ने कहा कि स्व. साहू के निधन से राजिम के सामाजिक एवं साहित्यिक जगत में एक रिक्तता आ गई है, जिसे भर पाना सम्भव नहीं है। समिति के उपाध्यक्ष कवि किशोर कुमार निर्मलकर ने कहा कि साहू जी एक मंझे हुए कवि थे। उनकी ओजमयी कविता सुनकर सभाओं में रौनक बढ़ जाता था। कवि श्रवण कुमार साहू 'प्रखरÓ ने कहा कि साहू जी माँ राजिम के सच्चे सपूत थे। अपने जीवनकाल में अनेक सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए माँ राजिम की गाथा को अपनी रचना के माध्यम से जन-जन पहुंचाने में आपका योगदान हमेशा याद रखा जायेगा। समिति के सचिव संतोष कुमार साहू प्रकृति ने अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि साहू जी ने त्रिवेणी संगम साहित्य समिति के अनेक कार्यक्रम में शिरकत करके समिति का मान बढ़ाते थे और नवोदित साहित्यकारों का मार्गदर्शन करते थे। इनके अलावा कवि मोहनलाल मानिकपन, दिनेश चौहान, डॉ रमेश सोनसायटी, रोहित माधुर्य, कोमल सिंह साहू, केंवरा यदु, भारत लाल साहू, छग्गू यास अड़ील, थानुराम राम निषाद, रामेश्वर रंगीला, डॉ मोतीलाल साहू रविन्द्र साहू आदि ने दुख व्यक्त करते हुए उनके आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की है।

अन्य पोस्ट

Comments