राजनांदगांव

विपक्ष किसानों की समृद्धि के खिलाफ - दिनेश
24-Sep-2020 6:12 PM 2
विपक्ष किसानों की समृद्धि  के खिलाफ - दिनेश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 24 सितंबर।
किसान विधेयक किसानों की आय को दोगुनी करने के साथ किसानों के स्वाभिमान को बढ़ाने वाला, उनकी अर्थव्यवस्था में वृद्धि करने वाला और निश्चिंतता से खेती किसानी करने का गारंटी देने वाला विधेयक है। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किसान के हित और कल्याण के लिए लाए गए तीनों विधेयक की भूरि-भूरी प्रशंसा करते पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष दिनेश गांधी ने कहा कि देश में अब किसानी के विकास का रोडमैप प्रधानमंत्री मोदी ने प्रस्तुत कर दिया है। जिससे आने वाले समय में किसानों की आर्थिक उन्नति के मार्ग का पथ प्रशस्त हो गया है। विपक्ष का विरोध केवल राजनीतिक है, क्योंकि किसानों के कल्याण के लिए लाए गए विधेयक के सारे प्रावधान किसानों को विकास की मंजिल तक ले जाने वाली है।

श्री गांधी ने कहा कि इस बिल के अनुसार राज्य की सीमा के अंदर या फिर राज्य से बाहर, देश के किसी भी हिस्से पर किसान अपनी उपज का व्यापार कर सकेंगे। इसके लिए व्यवस्थाएं की जाएंगी। मंडियों के अलावा व्यापार क्षेत्र में फार्मगेट, वेयर हाउस, कोल्डस्टोरेज, प्रोसेसिंग यूनिटों पर भी किसानों को बिजनेस करने की आजादी होगी। इसी तरह यह  इस विधेयक द्वारा कृषि करार के माध्यम से बुवाई से पूर्व ही किसान को उपज के दाम निर्धारित करने और बुवाई से पूर्व किसान को मूल्य का आश्वासन देता है। किसान को अनुबंध में पूर्ण स्वतंत्रता रहेगी। वह अपनी इच्छा के अनुरूप दाम तय कर उपज बेचेगा। इससे किसान फसल के खराब होने की आशंका पर अपनी पूर्व में तय किए गए कीमत को प्राप्त कर सकेगा।
 

अन्य पोस्ट

Comments