सुकमा

नक्सलियों ने 4 ग्रामीणों को किया अगवा
24-Sep-2020 10:17 PM 7
नक्सलियों ने 4 ग्रामीणों को किया अगवा

मीडिया के माध्यम से सर्व आदिवासी समाज ने की रिहाई अपील

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दोरनापाल, 24 सितंबर।
सुकमा जिले के कुन्देड़ इलाके में नक्सलियों ने 22 सितंबर को अगवा युवक की मुखबिरी के शक में हत्या कर दी। वहीं युवक के परिजन समेत 4 ग्रामीण तलाश में जंगल की ओर गए हुए थे, जो आज तक नहीं लौटे हैं। बताया जाता है कि वे ग्रामीण नक्सलियों के कब्जे में है। जिला मुख्यालय में आज सर्व आदिवासी समाज की बैठक हुई, जिसमें समाज प्रमुखों ने मीडिया के माध्यम से नक्सल संगठन से अपील की है कि निर्दोष आदिवासियों को जल्द रिहा करें।

आज जिला मुख्यालय स्थित कुम्माहरास भवन में सर्व आदिवासी समाज की बैठक आयोजित की गई। जिसमें तीनों ब्लाक के समाज प्रमुख उपस्थित हुए। वहीं उईका सोमडू कुन्देड़ निवासी ने एक आवेदन देकर कहा कि नक्सलियों ने चार ग्रामीणों को बंधक बना लिया है। उनकी माने तो 14 सितंबर को उईका हुंगा (22)अपनी बहन को छोडऩे के लिए बीजापुर जिले के कोटकपल्ली गया हुआ था। रास्ते में नक्सलियों ने उसे अगवा कर लिया और बंधक बनाने के बाद 22 सितंबर को मार कर शव फेंक दिया। वहीं मृतक को खोजने के लिए 19 सिंतबर को उसके परिजन उईका पाण्डू, उईका धु्ररवा, उईका सीते, उईका जोगी जंगल की और गए थे, जो आज तक नहीं पहुंचे है। अभी भी नक्सल संगठन के कब्जे में हंै।
 
मीडिया से चर्चा करते हुए ब्लॉक अध्यक्ष संजय सोढ़ी ने कहा कि कुन्देड़ के चार ग्रामीण अभी भी नक्सलियों के कब्जे में है। उनके परिजनों ने आज बैठक में समाज के समक्ष अपनी बातें रखी है। समाज के प्रमुख नक्सल संगठन से अपील करता है कि उन ग्रामीणों को जल्द रिहा करें। क्योंकि वो ग्रामीण निर्दोष है। उनका कोई कसूर नहीं है।  

अन्य पोस्ट

Comments