सरगुजा

अवैध होर्डिंगस व गुमटी हटाने नेता प्रतिपक्ष ने महापौर को सौंपा ज्ञापन
30-Sep-2020 9:42 PM 6
 अवैध होर्डिंगस व गुमटी हटाने नेता प्रतिपक्ष ने महापौर को सौंपा ज्ञापन

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

अम्बिकापुर, 30 सितंबर। अंबिकापुर नगर निगम में दो बार महापौर रह चुके व वर्तमान में नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष प्रबोध मिंज ने शहर में अवैध होर्डिंगस,गुमटी व हो रहे अवैध भवन निर्माण पर कार्रवाई करने महापौर डॉ. अजय तिर्की को ज्ञापन सौंपा है। नेता प्रतिपक्ष प्रबोध मिंज ने निगम कर्मचारियों द्वारा होर्डिंगस को हटाने में भेदभाव का भी आरोप लगाया है।

महापौर को सौंपे ज्ञापन में श्री मिंज ने बताया कि लॉकडाउन के अवसर का लाभ उठाते हुए एवं संबंधितों को बगैर सूचना दिए निगम के कर्मचारियों ने कुछ होर्डिंगस को हटाया एवं कुछ को वैसे ही छोड़ दिया। जो न्याय संगत नहीं है। यदि जनहित या निगम हित में कोई कार्रवाई होती है तो पूरी निष्पक्षता के साथ कार्रवाई होनी चाहिए किसी के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए।नेता प्रतिपक्ष ने शहर के चौक चौराहों पर लगे ट्रैफिक सिग्नल के ऊपर अवैध होर्डिंग्स को भी तत्काल हटाने की मांग की है।

श्री मिंज ने आगे बताया कि शहर में अवैध गुमटियों की भी बाढ़ आ गई है। नगर के बस स्टैंड,एमजी रोड, बनारस रोड,रामानुजगंज रोड सहित अन्य जगहों पर नगर निगम के बगैर सहमति के व निगम कर्मियों की मिलीभगत से अवैध रूप से गुमटियों का संचालन कराया जा रहा है। इन पर कभी कभार दिखावा के लिए कार्रवाई होती है। शहर के लगभग लगभग सभी महत्वपूर्ण व्यवसायिक जगहों पर इस तरह का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है।नगर के देवीगंज रोड,ब्रम्ह रोड,सदर रोड,स्कूल रोड में निगम द्वारा बनाए गए नालियों के ऊपर सीमेंट से ढलाई करके पेवर ब्लाक लगाकर दुकानदार अपना सामान बाहर निकाल कर रख रहे हैं जिसके कारण नालियों की सफाई नहीं हो पा रही है।

श्री मिंज ने कहा कि इसी तरह से अवैध भवन निर्माण का कार्य काफी तेजी से फल-फूल रहा है। निगम के बगैर अनुमति व बिना नक्शा पास कराए भवनों का निर्माण हो रहा है। शासन के नवीन भूमि विक्रय कानून से भी अवैध निर्माण में बढ़ोतरी हुई है।

निगम अधिकारियों की मिलीभगत से अवैध रूप से गुमटियों का संचालन,भवन निर्माण व होर्डिंगस लग रहे हैं जिससे निगम को आर्थिक क्षति पहुंच रही है। श्री मिंज ने उक्त सभी बिंदुओं पर महापौर से तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है।

अन्य पोस्ट

Comments