सरगुजा

देवी मंदिरों में जले आस्था के दीप, गूंजे जयकारे
17-Oct-2020 10:02 PM 5
देवी मंदिरों में जले आस्था   के दीप, गूंजे जयकारे

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

लखनपुर, 17 अक्टूबर। भक्ति और आस्था का महापर्व शारदीय नवरात्र मनाए जाने का सिलसिला आज शनिवार से देवी मंदिरों शक्तिपीठों में आरंभ हुई। स्थानीय प्राचीन महामाया मंदिर में बाकायदा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राज परिवार के लाल बहादुर अजीत प्रताप सिंह देव एवं अमित सिंह देव ने कुलदेवी माता कात्यायनी मां महामाया की विधिवत पूजा अनुष्ठान की। भक्तों ने जगत जननी मां महामाया के पूजा अर्चना करते हुए देवी माता का आशीर्वाद प्राप्त किया।

प्राचीन भवानी मंदिर में भी माता भक्तों का तांता लगा रहा, परंतु कोरोनाकाल के भयावहता को देखते हुए लोगों ने सामाजिक दूरी नियम का पालन भी किया। शासन प्रशासन के दिशानिर्देशों के प्रति पालन में माता भक्तों ने सादगी पूर्ण ढंग से देवी मंदिरों में पूजा-अर्चना की। दुर्गा पंडालों में भी कोरोना काल का साया साफ तौर पर देखा गया। दुर्गा पंडालों में देवी माता के भक्तों का आना-जाना लगा रहा। पूजा अनुष्ठान भी होते रहे, परंतु अपेक्षाकृत पूजा स्थलों में लोगों की भीड़ भाड़ कम देखी गई। सावधानी बरतते हुए लोगों ने दुर्गा पंडालों में पूजा-अर्चना की। देवी मंदिरों में आदि शक्ति जगजननी का जयकारा गूंजता रहा।

अन्य पोस्ट

Comments