दन्तेवाड़ा

डिजिटल प्लेटफार्म जूम पर सरपंच सचिवों से संवाद, कलेक्टर ने कोरोना नियंत्रण के लिए दिए निर्देश
19-Oct-2020 10:19 PM 36
  डिजिटल प्लेटफार्म जूम पर सरपंच सचिवों से संवाद,  कलेक्टर ने कोरोना नियंत्रण के लिए दिए निर्देश

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

दंतेवाड़ा, 19 अक्टूबर। मोबाईल एप्लीकेशन जूम के माध्यम से कलेक्टर दीपक सोनी ने आज जिले के संरपच सचिवों एवं जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से वीडियों कॉन्फ्रेसिंग की। इस मौके पर मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  अश्विनी देवांगन, अमन सिंह नोडल अधिकारी एवं अन्य अधिकारी एनआईसी कक्ष में उपस्थित थे।

कलेक्टर दीपक सोनी ने सचिव सरपंचों से बातचीत में कहा कि जिले में प्रथम चरण का कोरोना सामुदायिक सर्वे अभियान 4 अक्टूबर को पूरा हो चुका है। उन्होंने सरपंच सचिवों को कोरोना संक्रमण रोकने के लिए किए जा रहे प्रयासों पर उन्हें बधाई दी और कहा कि कोरोना की समाप्ति तक यह लड़ाई जारी रहेगी।

उन्होंने कहा कि सबसे पहले सर्वे अभियान की शरूआत इस जिले से हुई है। अब तक जिले में 3700 मरीज चिन्हांंकित किये गये है। जिसमें से 3 हजार 3 सौ ठीक हुये, मात्र 9 मृत्यु हुई है। वह भी जो अंतिम स्टेज में अस्पताल में पहुचे। कलेक्टर श्री सोनी ने कहा कि दूसरे चरण की शुरूआत जिले में की गई है। गांव-गांव में जांच कराने के लिए दल भेजा जा रहा है।

 कलेक्टर श्री सोनी ने जिले के जनपद पंचायत गीदम, कुआकोण्डा में जांच दल को आ रही परेशानी से सरपंच सचिव को अवगत कराया और कहा कि ग्रामीण कुछ स्थानों पर परीक्षण कराने आगे नहीं आ रहे है, ऐसे शिकायतें मिली है, जहां जांच दलों को सहयोग नहीं मिल रहा है। ग्राम हिरोली, जबेली, अरबे, हल्बारास मदाड़ी आदि ऐसे ग्राम है जहां जांच दलों को सहयोग प्राप्त नही हो रहा है। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए सचिवों को चेताया कि सचिव, रोजगार सहायक, मितानीन लोगों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी जांच की जा रही है, वहां जांच अवश्य करायें। श्री सोनी ने कहा कि सरपंच सचिव अपनी जिम्मेदारी समझें।

चर्चा के दौरान दन्तेवाड़ा जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अमित भाटिया ने वनसंसाधनों को लेकर सीमांकन की चर्चा की जिस पर उन्हें आवश्यक निर्देश दिया गया।

अन्य पोस्ट

Comments