गरियाबंद

लिपिक खुदकुशी, न्याय की मांग को ले कर्मियों का बेमुद्दत धरना-प्रदर्शन
20-Oct-2020 7:42 PM 30
लिपिक खुदकुशी, न्याय की मांग को ले कर्मियों का बेमुद्दत धरना-प्रदर्शन

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

गरियाबंद, 20 अक्टूबर। दिवंगत शुभम पात्र को श्रद्धांजलि अर्पित कर न्याय दिलाने के लिए जिला लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ के आह्वान पर मंगलवार से गांधी मैदान में अनिश्चतकालीन धरना-प्रदर्शन शुरू किया गया है। आंदोलन को जिला के सभी कर्मचारी संगठनों व नगरपालिका अध्यक्ष गफ्फार मेमन अपने पार्षद सहित धरनास्थल पहुंच कर अपना समर्थन दिया।

ज्ञात हो कि देवभोग तहसील कार्यालय में पदस्थ रहे शुभम पात्र ने सुसाइट नोट पर तहसीलदार पर प्रताडऩा का आरोप लगाते हुए निवास में फांसी लगा ली थी। उक्त सुसाइट नोट पुलिस ने मौके से बरामद किया था। तत्संबंध में गरियाबंद निवासी उसकी मां और जनप्रतिनिधियों एवं लिपिक संघ द्वारा कलेक्टर  गरियाबंद को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंप कर दोषी अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर एवं निलंबन की मांग रखी गई थी। जिसे स्वीकार करते हुए कलेक्टर गरियाबंद ने अपर कलेक्टर गरियाबंद को जांच अधिकारी नियुक्त कर पूरी जांच रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए थे किंतु सोमवार को बी. एल. कुर्रे तहसीलदार देवभोग को स्थानांतरित कर उन्हें तहसीलदार मैनपुर पद स्थापना कर दिया गया जिससे लिपिक संवर्ग में भारी आक्रोश है।

संघ का कहना है कि सात दिनों बाद भी जांच व एफआईआर दर्ज नहीं हुई, बल्कि जिला प्रशासन द्वारा उक्त तहसीलदार को देवभोग से मैनपुर तबादला कर दिया गया। जिसके विरोध में जिला लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के आह्ववान में मंगलवार से गांधी मैदान पर बेमुद्दत धरना कर्मचारियों ने शुरू कर दिया है और धरना स्थल में सभी संगठन के लोग उपस्थित होकर दिवंगत शुभम को श्रद्धांजलि अर्पित किए।

धरना स्थल में छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के प्रंातीय अध्यक्ष रोहित तिवारी ने कहा कि तहसीलदार को तत्काल निलंबित कर एफआईआर दर्ज होना चाहिए किन्तु यहां तो देवभोग से हटा कर मैनपुर में तहसीलदार बना दिया गया। जिससे साफ जाहिर होता है कि प्रशासन अधिकारी को सजा से बचाना चाहता है। श्री तिवारी ने लिपिक साथियों को कहा कि एफआईआर तो लिखनी ही पड़ेगी, दिवंगत साथी को न्याय दिला कर रहेंगे। जिला प्रशासन इस घटना को दबाने का प्रयास कर रहा है। इसे संघ इसे बर्दाश्त नहीं करेगा। आज जिला में धरना प्रदर्शन शुरू हुआ है। एफआईआर दर्ज करने में देरी करने पर इस आंदोलन को प्रदेश स्तर पर होने की बात कही।

धरना स्थल पर प्रमुख रूप से रोहित तिवारी प्रांताध्यक्ष छ ग लिपिक कर्मचारी संघ,  पन्नालाल देववंशी जिलाध्यक्ष छ ग लिपिक कर्मचारी संघ ,  सुनील यादव सचिव प्रांतीय संगठन लिपिक संघ, प्रदेश अध्यक्ष  रोहित तिवारी प्रदेश अध्यक्ष तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ  लखन लाल साहू प्रदेश अध्यक्ष अनियमित कर्मचारी संग गोपाल गिरी गोस्वामी  जिलाध्यक्ष पन्नालाल देववंशी, जिलाध्यक्ष आशीष सिंह जिला अध्यक्ष बिलासपुर,  सुनील यादव, प्रांतीय महामंत्री सुदामा ठाकुर, जिला सचिव बसंत मिश्रा, जिलाध्यक्ष अभियंता संघ श्री साहू वाहन चालक संघ जितेंद्र यादव पटवारी संघ  मनोज खरे जिलाध्यक्ष  शिक्षाकर्मी संघ आरिफ मेंमन नगरपालिका संघ पुरुषोत्तम चंद्राकर जिला कोषालय संघ प्रकाश जी आरके मेहरा रहमान खान मोहम्मद इस्माइल एल पी वर्मा, देवेश शर्मा, देवेंद्र वर्मा राकेश शर्मा, सूरज बोरकर भागवत साहू अमृतलाल ठाकुर, भगवत दयाल ध्रुव, श्याम तिवारी, प्रशांत मेनपाल, जीआर ध्रुव, गजेंद्र मारकंडे, आरके पाटिल, दयालु राम यादव, निकेश साहू, विवेक टेमरे माधुरी यादव  भगवती रिवर दुर्गा ध्रुव सहित शिखा देवांगन बिंदु कश्यप  स्वर्णालता गिथोड़े पुष्पा निर्मलकर माधुरी यादव मंजुला मिश्रा  सपना मिश्रा संतोष सेन  सोमनाथ परना रोहित तिवारी सत्या यादव जे एल सीधार आदित्य ठाकुर केसी साहू  एनके साहू एलआर टांडी सुष्मिता उपाध्याय दीपयंती तिवारी पुन्नी साहू  पुष्पा निर्मलकर  मिथिलेश किसानु,  गिरवर ध्रुव ,  प्रशांत मेनपाल अन्य  लोग उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments