कोण्डागांव

अंबेडकर सेवा संस्था ने मनाया महात्मा ज्योतिराव फुले की पुण्यतिथि
30-Nov-2020 6:59 PM 20
 अंबेडकर सेवा संस्था ने मनाया महात्मा ज्योतिराव फुले की पुण्यतिथि

कोण्डागांव, 30 नवंबर। डॉ. अंबेडकर सेवा संस्था के माध्यम से 28 नवंबर को अंबेडकर चैक में बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के समक्ष राष्ट्रपिता महात्मा ज्योति राव गोविंदराव फुले की पुण्यतिथि पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया गया। महात्मा ज्योतिराव फुले को उनकी जीवन को याद करते हुए अंबेडकर सेवा संस्था के कर्मचारियों ने कहा, महात्मा ज्योतिराव फुले का जन्म 11 अप्रैल 1827 को पुणे में हुआ था। माता का नाम चिमणाबाई तथा पिता का गोविंदराव फुले था। महात्मा ज्योति राव फूले परिनिर्वाण 28 नवंबर 1890 को हुआ था। गोविंदराव फुले वह एक किसान परिवार से आते थे और फूल बेचते थे। जब वह छोटे थे इनकी मां का देहांत हो गया। यही नहीं उनका न्याय समानता की मूल्यों पर आधारित समाज की परिकल्पना प्रस्तुत की महिला शिक्षक का खूब वकालत करते थे। यही वजह हैं कि, 1840 में जब इनका विवाह सावित्री फुले से हुआ। तो उन्होंने अपनी पत्नी सावित्रीबाई फुले को पढऩे के लिए प्रेरित किया। 1852 में उन्होंने 3 स्कूलों की .स्थापना की 1858 फंड की कमी के कारण स्कूल बंद कर दिया गया। डॉ. अंबेडकर सेवा संस्था से परिनिर्वाण दिवस पर कोटि कोटि नमन कार्यक्रम में संरक्षक तिलक पांडे, पीपी गोनाने, रमेश पोयाम, उपाध्यक्ष मुकेश मारकंडे, कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश नाग, देवानंद चैरे, आलोक यादव, सत्येंद्र भैयर व अन्य उपस्थित रहे।

अन्य पोस्ट

Comments