बस्तर

ईश्वर दिव्यांग के भी अंदर है जो समझ लिया वह सिकंदर- जैन
03-Dec-2020 9:24 PM 40
ईश्वर दिव्यांग के भी अंदर है जो समझ लिया वह सिकंदर- जैन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर, 3 दिसम्बर। अंतरराष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस के अवसर पर विद्या ज्योति में खेलकूद, सांस्कृतिक प्रतियोगिता व सहायक उपकरणों का वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस दौरान संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने कहा कि हर वर्ष विश्व में 3 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य दिव्यांगों के प्रति लोगों के व्यवहार में बदलाव लाना है और उन्हें उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है।

संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने विश्व के महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग के उपर घटित घटनाओं का उदाहरण देते हुए कहा कि गंभीर बिमारियों से पीडि़त होने के बावजूद उन्होंने उस बीमारी से लडक़र एक उदाहरण पेश किया और  स्टीफन हॉकिंग ने ब्लैक होल और बिग बैंग सिद्धांत को समझने में अहम योगदान दिया। उन्हें 12 मानद डिग्रियां और अमरीका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान प्राप्त हुये। पूरे विश्व में ऐसे हजारों दिव्यांग हैं जो अपने अंदर की शक्ति को पहचान कर पूरी दुनिया को चमत्कार करके दिखाया। आगे कहा कि ईश्वर दिव्यांग के भी अंदर है,जो समझ लिया वो सिकंदर है।

इस दौरान संसदीय सचिव रेखचंद जैन, महापौर सफीरा साहू , उपसंचालक पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग वैशाली मरडवार, आरजीएम समन्वयक अशोक पाण्डे द्वारा दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण वितरित किया। इसी के साथ दिव्यांग बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रतियोगिता, खेलकूद प्रतियोगिता व रंगोली प्रतियोगिता में बढ़-चढक़र हिस्सा लिया।

 दिव्यांग गायक को 21 हजार रुपये समाज कल्याण विभाग द्वारा तथा सांस्कृतिक प्रतियोगिता में शामिल बच्चों को 2100-2100रूपये संसदीय सचिव जैन, महापौर सफीरा साहू व जिला पंचायत सीईओ इंद्रजीत चंद्रवाल द्वारा दिया गया, साथ ही पुरुस्कार वितरण भी किया गया।

 इस दौरान विद्या ज्योति स्कूल प्राचार्य फादर जेनम, क्राईस्ट कालेज प्राचार्य टेनी मैत्थ्यू , आईटी सेल प्रदेश महासचिव योगेश पानीग्राही, जिला लीगल सेल अध्यक्ष अवधेश झा, पंचायत समाज कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग ,स्कूल प्रबंधन उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments