कोरबा

कम हो रही कोरोना की रफ्तार, 94 फीसदी मरीज हुए ठीक
02-Jan-2021 7:10 PM 30
   कम हो रही कोरोना की रफ्तार, 94 फीसदी मरीज  हुए ठीक

  15239 मरीज हुए ठीक, कुल पॉजिटिव 16182,  एक्टिव केस 778  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा ,  2 जनवरी। कोरोना के नये स्वरूप ने विश्व के लोगों में डर का माहौल पैदा कर दिया है, वहीं जिले के लोगों के लिए जिले में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आना राहत भरी बात है। जिला प्रशासन के द्वारा मुहैया करवाई जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं और सेवाओं के कारण जिले में कोरोना की रफ्तार कम हो रही है।

जिले में रोजाना औसत कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आ रही है। अभी तक कुल पॉजिटिव मरीजों में से 94 प्रतिशत मरीज कोरोना संक्रमण से पूरी तरह मुक्त हो चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सजगता और गंभीरता पूर्वक काम करने से नए मरीजों की संख्या में कमी आई है। जिले में कोरोना संक्रमित मरीज भी तेजी से और अधिक संख्या में ठीक हो रहे हैं। अभी तक कुल 15 हजार 239 मरीज पूरी तरह कोरोना से संक्रमण मुक्त होकर घर लौट चुके हैं। जिले में अभी तक कुल 16 हजार 182 कोरोना मरीज पाये गये हैं। वर्तमान में कुल 778 कोरोना संक्रमित मरीजों का ईलाज जारी है। अभी तक कोरोना संक्रमण के कारण 165 लोगों की मृत्यु हुई है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अब तक मिले पॉजिटिव मरीजों और अस्पतालों में इलाज के बाद ठीक हुये मरीजों के हिसाब से करतला विकासखण्ड में रिकवरी रेट जिले में सबसे अधिक है। करतला में अब तक एक हजार 425 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है जिनमें से एक हजार 374 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं तथा 41 सक्रिय मरीज है। पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड में बीते दिन तक 488 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है जिनमें से अभी तक इलाज के बाद 450 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं तथा 34 सक्रिय मरीज  है। कोरबा विकासखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में अभी तक एक हजार 075 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं जिनमें से 947 ठीक हो गये हैं तथा 117 सक्रिय मरीज हैं। कटघोरा विकासखण्ड में मिले चार हजार 942 कोरोना मरीजों में से अब तक चार हजार 575 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हो गये हैं तथा 323 मरीजों का ईलाज जारी है। विकासखण्ड पाली में अब तक एक हजार 040 कोरोना मरीजों में से 948 मरीज इलाज के बाद ठीक हुये हैं और 87 मरीजों का ईलाज जारी है। कोरबा के शहरी क्षेत्रों में अब तक सात हजार 212 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है जिनमें से छह हजार 945 मरीज इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं तथा 176 सक्रिय मरीज हैं। जिले में कोरोना संक्रमण की दर को कम करने तथा पॉजिटिव मरीजों की पहचान होने से जल्दी ईलाज शुरू करने प्रतिदिन अधिक संख्या में लोगों का कोरोना जांच किया जा रहा है। जिले में अभी तक कुल एक लाख 89 हजार 193 कोरोना जांच सैम्पल लिये जा चुके हैं जिनमें से एक लाख 71 हजार 467 सैम्पलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। लिए गए सैम्पलों में 16 हजार 182 सैम्पलों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है तथा 871 सैम्पलों की रिपोर्ट आना बाकी है एवं 673 सैम्पल विभिन्न तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुए हैं।

                जिले में कोरोना संक्रमितों के लक्षणों और गंभीरता के अनुसार उन्हें कोविड अस्पतालों या होम आईसेालेशन में रखकर ईलाज किया जा रहा है। जिले के कोविड संस्थानों में कोरोना संक्रमित मरीजों के ईलाज के लिये कुल एक हजार 330 बेड की क्षमता विकसित की गई है। जिले के कोविड अस्पतालों में अब तक कुल तीन हजार 127 कोरोना संक्रमित मरीजों को ईलाज के लिये भर्ती किया जा चुका है। कोविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों में 518 मरीज अन्य जिलों के भी शामिल हैं। कुल भर्ती किये गये मरीजों में से दो हजार 800 मरीज कोरोना से स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। बिना या कम लक्षण वाले कोरोना संक्रमित मरीजों को घर पर ही होम आईसोलेशन में रखकर ईलाज कराने की सुविधा जिला प्रशासन द्वारा प्रदान की गई है। जिले में अब तक कुल 14 हजार 87 लोगों का ईलाज होम आईसोलेशन में रखकर किया जा चुका है जिनमें से 13 हजार 258 लोग होम आईसोलेशन में रहकर पूर्ण रूप से कोरोना से मुक्त हो चुके हैं। होम आईसोलेशन में रखे गये 527 मरीजों में गंभीर स्वास्थ्य की स्थिति आने पर  उन्हें कोविड अस्पताल में भी रिफर किया जा चुका है।

अन्य पोस्ट

Comments