जान्जगीर-चाम्पा

आंदोलनकारियों ने भैंस के सामने बजाई बीन
11-Jan-2021 6:37 PM 72
आंदोलनकारियों ने भैंस के सामने बजाई बीन

पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों को अकलतरा विधायक का समर्थन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बलौदा, 11 जनवरी।
पंचायत सचिवों की एक सूत्रीय दो वर्ष पूर्ण कर्मचारियों की नियमितीकरण की मांग को लेकर 26 दिसम्बर से जनपद पंचायत कार्यालय के बाहर में कलम बंद कामबंद,अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू  किये है।जो आज भी अपने मांगो को लेकर डटें हुये है।

आज अकलतरा विधायक सौरभ सिंह ने पंचायत सचिवों,और रोजगार सहायकों की जारी अनिश्चित कालीन हड़ताल को अपना समर्थन दिया और कहा कि यह सरकार सिर्फ लोगों को सर्कस दिखा रही है ,और अपने किये वादों से मुकर रही है। बड़े-बड़े पोस्टरों में अपना फोटो छपवा कर लोगो से छलावा कर रही है। हमारा समर्थन आपके साथ है। वहीं दूसरी ओर सचिवों के हड़ताल से पंचायतों के काम प्रभावित हो रहे हैं। स्वीकृत निर्माण कार्यो  का भुगतान नहीं हो रहा है।

पंचायत सचिव संघ के संरक्षक कमलकिशोर सिंह ठाकुर ने बताया है कि हमारी एक सूत्रीय मांग कोई अभी की नहीं है। 25 वर्षों पुरानी है जिस पर शासन-प्रशासन की उपेक्षा एवम अनदेखी रवैया को देखते हुए  प्रदेशव्यापी पंचायत सचिवों द्वारा जनपद कार्यालय के बाहर  में अनिश्चितकालीन कलम बंद कामबंद हड़ताल के लिए मजबूर होना पड़ा है। 

आगे कहा कि पंचायत सचिव के साथ नियुक्त हुए कर्मचारियों ,शिक्षाकर्मियों का संविदा उपरांत नियमितीकरण किया जा चुका है और हम सभी भी दो वर्षों की परिवीक्षा अवधि पूर्ण हो चुकी है। सरकार के वादे के अनुसार हमे भी समानवेतन मान, क्रमोन्नति, आदि मिलनी चाहिए। जब भी उनसे चर्चा हुई हमेशा वित्तीय संकट का नाम लेते है जिसके लिए हमारे सचिवों ने बलौदा की सडक़ों में जाकर भीख मांगकर 3000 हजार रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराए हैं ताकि उनके काम आए। जो उनकी बातों को नहीं सुन रहे है।

इसके लिए भैंस के सामने बीन बजाकर विरोध प्रकट किए हैं। जब तक सरकार हमारी जायज मांगों को पूरा नहीं करती पूरे प्रदेश के सचिव के साथ साथ हम अपने ब्लॉक मुख्यालय में कलम बंद कामबंद कर हड़ताल करेंगे।
 

अन्य पोस्ट

Comments