दन्तेवाड़ा

जिले को कुपोषण मुक्त बनाने का संकल्प
12-Jan-2021 9:25 PM 41
 जिले को कुपोषण मुक्त बनाने  का संकल्प

दंतेवाड़ा, 12 जनवरी। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान को और सुदृढ़ बनाने तथा दंतेवाड़ा जिले को कुपोषण मुक्त बनाने के लिए बापी न उवाट के एक दिवसीय कार्य शाला में आज कलेक्टर दीपक सोनी के साथ बापियो ने जिले को कुपोषण, एनीमिया और मलेरिया मुक्त बनाने की शपथ ली।

आज गीदम के एजुकेशन सिटी के ऑडिटोरियम में बापी, महिला शक्ति केंद्र के चयनित स्वयंसेवकों एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का 1 दिन का उन्मुखीकरण प्रशिक्षण आयोजित किया गया। उक्त कार्यक्रम को जिले के कलेक्टर श्री दीपक सोनी द्वारा  संबोधित करते हुए जिले को एनीमिया मुक्त, कुपोषण मुक्त, मलेरिया मुक्त बनाने एवं शत प्रतिशत बच्चों का आंगनबाड़ी केंद्र में पंजीयन कराने इसके साथ ही शत प्रतिशत बच्चों का दाखिला स्कूल में करवाने के विषय में चर्चा की गई।

श्री सोनी द्वारा 20 सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाली बापियो को मॉनिटर के रूप में अन्य बापीयों के साथ काम करते हुए काम को निरंतर बेहतर बनाने कहा। हर विकासखंड से अच्छा काम करने वाले 5 बापीयों को भी चयनित करते हुए सम्मानित करने की बात कही। साथ ही हर 2 महीने में बढिय़ा काम करने वाले बापी का चयन मॉनिटर के रूप में किया जाएगा।

 यूनिसेफ के अभिषेक सिंह द्वारा सामुदायिक सहभागिता के साथ बापी कार्यक्रम को अधिक जन उपयोगी बनाने कहा गया। महिला बाल विकास अधिकारी बृजेन्द्र सिंह ठाकुर द्वारा  युवाओं से समाज मे बेहतर काम करने की चुनौतियों पर चर्चा की गई। बापियो द्वारा अपने काम के विषय ओर मंच पर आ कर चर्चा की गई। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में परियोजना अधिकारी गीदम ऋ तिष टण्डन, परियोंजना अधिकारी दन्तेवाड़ा संगीता बिंद, परियोजना अधिकारी बचेली कल्पना रथ सहित विभाग के पर्यवेक्षक एवम अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहें।

अन्य पोस्ट

Comments