कोण्डागांव

भाजपा ने विस स्तर पर माकड़ी में दिया धरना
13-Jan-2021 9:15 PM 22
 भाजपा ने विस स्तर पर माकड़ी में दिया धरना

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 13 जनवरी। धान खरीदी कार्य में हो रही लापरवाही और परेशानी को मुद्दा बनाते हुए भाजपा ने कोण्डागांव विधानसभा स्तर पर विकासखंड माकड़ी मुख्यालय में 13 जनवरी को एक दिवसीय धरना दिया।

विधानसभा स्तर पर दिए गए धरना को कोण्डागांव की पूर्व विधायक व पूर्व मंत्री और वर्तमान में भाजपा की प्रदेश महिला मोर्चा प्रभारी लता उसेण्डी ने नेतृत्व किया। धरना प्रदर्शन के दौरान धरना स्थल से तहसील कार्यालय तक विशाल रैली निकाली गई, जिसके बाद माकड़ी तहसीलदार को राज्यपाल के नाम ज्ञापन भी सौंपा गया।

इस धरना प्रदर्शन में भाजपा की प्रदेश महिला मोर्चा प्रभारी लता उसेण्डी ने कहा, देर से धान खरीदी प्रारंभ करने के बाद भी किसानों को धान खरीदी केंद्रों पर अनेक कठिनाइयों व समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। धान के उठाव में और बारदानों की कमी के चलते किसानों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा हैं। किसानों के धान का रकबा गिरदावरी के नाम पर काटा गया। करीब दो लाख एकड़ जमीन इस बहाने कम कर दिए गए हैं। तहसील कार्यालय में आवेदन तथा टोल फ्री नम्बर पर किये गये आवेदनों पर भी कोई कारवाई नहीं की जा रही हैं। किसान भटक रहे हैं, रकबा कम होने से निराश हो कर भी किसान आत्महत्या कर रहे हैं। किसानों के वास्तविक रकये के आधार पर ही धान खरीदी हो। छत्तीसगढ़ सरकार ने बारदाना खरीदी के लिए अनुमानित संख्या 4.45 लाख गठान (500 बारदाना प्रति गठान) खरीदने के लिए समय रहते कदम नहीं उठाया जिसके कारण किसान परेशान हैं।

उन्होंने आगे कहा, कांग्रेस सरकार ने सदन में स्वीकार किया किया था कि, उसके पास 1 लाख 15 हजार गठान बारदाने की कमी हैं। अब उसी कमी को बहाना बना कर सरकार धान नहीं खरीद रही है, साथ ही केंद्र सरकार के नाम से किसानों को गुमराह कर रही हैं। वह बहानेबाजी बंद करे और बारदाने की आपूर्ति सुनिश्चित करें। बारदाने की कमी के कारण बड़ी संख्या में किसान अपना धान नहीं बेच पाए हैं, अत: धान खरीदी का समय एक माह बढ़ाया जाए, विगत वर्ष किसानों से बारदाना लिया गया जिसे न तो अब तक वापस किया गया हैं और न ही उसका कोई भुगतान किया गया। अत: उसका भुगतान भी शीघ्र किये जाए। कांग्रेस ने किसानों से न्यूनतम 2500 प्रति की कीमत पर धान खरीदने का वादा किया था। परंतु पिछले वर्ष जिन किसानों ने धान बचा था, उन्हें वर्ष भर से अधिक बीत जाने के बाद भी पूरी राशि नहीं मिली है। आज छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बने 2 वर्ष से अधिक होने के बाद भी बोनस की राशि किसानों को नहीं मिली है। अत: शीघ्र इस राशि का भुगतान भी किया जाए इसके साथ ही लता उसेण्डी ने कई मांगों को जल्द ही पुरा करने की मांग छत्तीसगढ़ सरकार से की और मांग पूरा नहीं होने पर आंदोलन करने की बात कही। धरना प्रदर्शन में भाजपा के कार्यकर्ता सहित ग्रामीण मौजूद रहे।

अन्य पोस्ट

Comments