जशपुर

राज्य सरकार पूरी तरह से धान खरीदी में फेल-साय
13-Jan-2021 9:23 PM 23
राज्य सरकार पूरी तरह से धान खरीदी में फेल-साय

  धरना-प्रदर्शन में जमकर बोला हमला  

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

पत्थलगांव, 13 जनवरी। बुधवार को पंचायती धर्मशाला के सामने लगभग एक हजार लोगों को मौजूदगी में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय की अगुवाई में कांग्रेस सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में हुंकार भरी। विष्णु देव साय ने खुली वाहन में खड़े होकर नगर की सडक़ों पर भ्रमण किया। इस दौरान भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे, जो बाइक रैली में साथ चल रहे थे।

 इस मौके पर उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए श्री साय ने  कहा कि राज्य में कांग्रेस ने बड़े बड़े वायदा कर के सरकार तो बना लिया पर दो साल का बोनस, बेरोजगारी भत्ता समेत कई घोषणा ठंडे बस्ते में डाल दिया, 3200 रुपये क्विंटल देने की बात कहने वाली सरकार ने अभी तक पिछले साल के धान खरीदी के एक कि़स्त नहीं दे पाई, जबकि प्रदेश के एक वरिष्ठ मंत्री ने इस वर्ष धान खरीदी से पूर्व पिछले साल के बकाया बोनस देने की बात कहते हुए कहा था कि बोनस नहीं मिला तो मंत्री पद से इस्तीफा देने की बात कही थी फिर धान खरीदी शुरू भी हो गयी और बकाया बोनस का कहीं भी अता पता नहीं है, अब देखना होगा अपने द्वारा किये गए वादा के अनुरूप वरिष्ठ मंत्री इस्तीफा देते हैं या नही।

राज्य सरकार पूरी तरह से धान खरीदी में फेल हो चुकी है। पिछले बरस की तुलना में कई किसानों का रकबा कम कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि  किसान प्रदेश में आत्महत्या कर रहे हंै, नकली खाद नकली बीज व दवा  बिक रही हं। मुख्यमंत्री व गृह मंत्री दोनों ही दुर्ग जिले के है। दुर्ग जिले का ही एक किसान नकली कीटनाशक व खाद की वजह से फसल नुकसान होने पर आत्महत्या कर चुका है। भाजपा किसानों के साथ सदैव खड़ी है। हम सरकार को विवश कर देंगे कि धान खरीदी की समय सीमा बढ़ाये। साथ ही किसानों का घटा रकबा भी वापस जोड़े। उन्होंने कहा कि 22 तारीख को जिला मुख्यालय में बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

पूर्व विधायक शिवशंकर साय पैंकरा ने कहा कि प्रदेश में मौजूद कांग्रेस सरकार को छग से 2023 में हम उखाड़ फेकेंगे। हम लगातार धान खरीदने में बरती जा रही लापरवाही से वाकिफ है। भोले भाले किसानों से छल किया जा रहा है। जबकि किसान अपनी अथक मेहनत से खेतों में काम कर फसल लगा रहे है। उन्हें धान खरीदी केंद्रों में धान बेचने के लिए रोजाना चक्कर काटना पड़ रहा है। आखिर कांग्रेस सरकार किसानों के हितों का ख्याल कब करेगी। हर तरफ भष्टाचार ने अपना पैर जमा लिया है।

अन्य पोस्ट

Comments