बिलासपुर

जिला अस्पताल की नर्सों ने रंगोली बनाकर लिखा- गुड बाई कोरोना
16-Jan-2021 1:17 PM 45
जिला अस्पताल की नर्सों ने रंगोली बनाकर लिखा- गुड बाई कोरोना

सुबह 11.28 को जिला अस्पताल में लगा ज्ञानू भोई को लगा पहला टीका,  कहा- अब निश्चिन्त होकर कर सकेगा कोरोना मरीजों की सेवा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 16 जनवरी।
जिला अस्पताल में आज सुबह 11.28 बजे ज्ञानू भोई को कोविड का पहला वैक्सीन लगाकर जिले में वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया गया। इसी दौरान सिम्स चिकित्सालय में रामनाथ घोष को कोरोना का पहला टीका लगाया गया। दोनों ही चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं जो कोरोना संक्रमित मरीजों के आने पर उन्हें रिसीव करते और अस्पताल में दाखिले तक की जिम्मेदारी लगातार उठा रहे हैं।

जिला अस्पताल में अभियान की शुरूआत के दौरान वैक्सीनेशन सेंटर की आकर्षक सजावट की गई थी। नर्सिग स्टाफ ने आकर्षक रंगोली बनाई जिस पर लिखा था- गुड बाइ कोरोना।

इस मौके सांसद अरुण साव, विधायक शैलेष पांडेय, महापौर रामशरण यादव, सभापति शेख नजीरुद्दीन सहित अनेक जन प्रतिनिधि व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। अभियान के पहले दिन का अवलोकन करने के लिये स्वास्थ्य सचिव रेणु पिल्ले भी यहां उपस्थित थीं। अतिथियों ने फीता काटकर वैक्सीनेशन अभियान की शुरूआत की।

दूसरी ओर सिम्स चिकित्सालय के वैक्सीनेशन सेंटर में रामनाथ घोष को कोरोना वैक्सीन लगाने के साथ ही टीकाकरण अभियान की शुरूआत की गई। इसके बाद वार्ड ब्वाय भुवनेश्वर कौशिक, लालाराम यादव, मुकेश राव ठाकरे, ओंकार नाथ यादव तथा पंकज मिश्रा को कोविड का टीका लगाया गया।

वैक्सीन लगवाने वालों को वैक्सीनेशन सेंटर में ही बनाये गये विश्राम कक्ष में आधा घंटा रुकने के लिये कहा गया ताकि किसी तरह की बेचैनी होने, तबियत बिगडऩे की स्थिति में उनका तुरंत उपचार शुरू किया जा सके। दोपहर 12.45 तक वैक्सीनेशन का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है।

आज जिले के 6 वैक्सीनेशन सेंटर सिम्स, जिला चिकित्सालय, अपोलो अस्पताल, दर्रीघाट, मस्तूरी और बिल्हा के स्वास्थ्य केन्द्रों में टीकाकरण का कार्य चल रहा है। आज सभी जगह 100-100 वैक्सीन लगाये जायेंगे और सभी हेल्थ वर्कर हैं।

पहला टीका लगवाने वाले ज्ञानू भोई को निगरानी में रखने के बाद वापस भेजा गया। उसने कहा कि टीका लगवाने से वह अपने आपको सुरक्षित महसूस कर रहा है। समय पर वह दूसरा डोज लगवा लेगा और कोरोना के मरीजों के उपचार में निश्चिन्त होकर मदद व सेवा कर सकेगा।

ज्ञात हो कि 28 दिन के बाद वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाना अनिवार्य है। सभी को टीका लगवाने के बाद क्यू आर कोड के साथ एक प्रमाण पत्र दिया जा रहा है जिसमें अगले वैक्सीनेशन की तारीख भी दर्ज की गई है। बिलासपुर जिले में 18 हजार से अधिक लोगों को टीका लगाया जाना है पर वर्तमान में आये डोज के अनुसार इनमें से 10 हजार लोगों को ही पहले चरण में मौका मिलेगा।

गौरेला पेन्ड्रा मरवाही जिले में भी आज कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य प्रारंभ हुआ। यहां की तैयारियों का निरीक्षण करने कलेक्टर नम्रता गांधी पहुंची थीं। यहां कुल 2120 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। पहले दिन 100 लोगों को टीका लगाया जा रहा है जिनमें सफाई कर्मचारी, वार्ड ब्वाय, नर्स व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं। 

अन्य पोस्ट

Comments