कोरबा

कोरोना का पहला टीका जिला अस्पताल के सिविल सर्जन को
16-Jan-2021 3:05 PM 33
कोरोना का पहला टीका जिला अस्पताल के सिविल सर्जन को

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कोरबा, 16 जनवरी।
पूरे देश की तरह कोरबा जिले के लिए भी आज का दिन कोविड महामारी को लेकर ऐतिहासिक रहा। जिले में आज से कोरोना टीकाकरण की शुरूआत हो गई। कोरबा शहर के प्रथम नागरिक महापौर राजकिशोर प्रसाद की मौजूदगी में पहला टीका जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. अरूण तिवारी को लगाया गया। इस दौरान अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका महोबिया, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. बी. बोडे, टीकाकरण नोडल अधिकारी आशीष देवांगन, जिला कार्यक्रम प्रबंधक पद्माकर शिंदे, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. पुष्पेश कुमार सहित मेडिकल स्टाफ और जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। कोरबा जिले में आज तीन जगहों सामुुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र करतला, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कटघोरा और जिला अस्पताल में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत एक साथ हुई। करतला के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पहला टीका लैब टैक्निशियन शंकर पत्रवानी और कटघोरा में पहला टीका खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ. रूद्रपाल सिंह कंवर को लगाया गया। 

जिला अस्पताल में आयोजित टीकाकरण शुभारंभ कार्यक्रम के दौरान उपस्थित जनप्रतिनिधियों और मेडिकल स्टाफ ने पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन सुना। इसके बाद डॉ. अरूण तिवारी को नर्स श्रीमती रीना कोसले ने आधा मिलीलीटर कोविशील्ड टीका लगाया। कोरबा जिले में कोरोना का पहला टीका लगवाने पर उपस्थित सभी लोगों ने तालियों गडग़ड़ाहट से डॉ. तिवारी का उत्साह वर्धन किया। टीका लगने के बाद डॉ. तिवारी को आधा घंटे के लिए डॉक्टरों की निगरानी में काउंसिलिंग रूम में रखा गया। दूसरा टीका नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. के एल. धु्रव को लगा। 

ज्ञातव्य है किकोरबा जिले को पहली खेप में 6800 वॉयल कोवीशील्ड वैक्सीन मिली है। इससे आज शुरू हुए टीकाकरण अभियान के पहले चरण में छह हजार 800 डोज टीके लगाए जाएंगे। वैक्सीन को दो से आठ डिग्री सेल्सियस तापमान पर सुरक्षित रखने के पूरें इंतजाम स्वास्थ्य विभाग द्वारा पहले ही कर लिए गए हैं। जिले में 10 हजार से अधिक फ्रंट लाईन वर्कर्स को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए कोविशील्ड वैक्सीन लगेगी। पहली खेप में मिली वैक्सीन लगने के बाद वैक्सीन की अगली खेप जिले को प्राप्त होगी। 

इस संबंध में सीएमएचओ डॉ. बोडे ने बताया कि राज्य शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के अनुसार सबसे पहले फ्रंट लाईन वर्कर्स में महिला एवं बाल विकास तथा स्वास्थ्य विभाग के अमले को कोवीशील्ड वैक्सीन के डोज लगाए जाएंगे। पहले चरण में जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र करतला, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कटघोरा और जिला अस्पताल में तीन टीकाकरण केन्द्र स्थापित किए गए हैं। एक दिन में जिले में तीनो केन्द्रों पर 50-50 लोगों को कोविशील्ड टीका लगाया जाएगा।
 
डॉ. बोडे ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए सभी तैयारियां पहले से पूरी कर ली गईं थी। साथ ही तैयारियों का परीक्षण भी ड्राय रन द्वारा किया जा चुका है। एक व्यक्ति को कोवीशील्ड का आधा मिलीलीटर डोज टीके के रूप में लगाया जाएगा। टीका लगने के बाद संबंधित व्यक्ति को टीकाकरण सेंटर पर बने काउंसिलिंग रूम में विशेषज्ञ चिकित्सक की निगरानी में आधा घंटा रूकना होगा। सीएमएचओ ने बताया कि इसके 28 दिन बाद व्यक्ति को टीके का दूसरा डोज लगेगा। पहले चरण में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं, सुपरवाईजरों सहित मितानिनों, डॉक्टरों, नर्सों, सफाई कमिर्यों, पैरामेडिकल स्टाफ आदि फ्रंट लाईन वर्करों को कोवीशील्ड कोरोना टीका लगाया जाएगा।

अन्य पोस्ट

Comments