दुर्ग

कलेक्टर की पत्नी ने कोरोना टीका लगाकर स्वा. कार्यकर्ताओं का बढ़ाया हौसला
19-Jan-2021 4:50 PM 18
कलेक्टर की पत्नी ने कोरोना टीका लगाकर स्वा. कार्यकर्ताओं का बढ़ाया हौसला

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 19 जनवरी।
होम आइसोलेशन इंचार्ज डॉ. रश्मि भुरे (कलेक्टर की पत्नी) ने जिला अस्पताल में कोरोना का टीका लगवाकर हेल्थ वर्करों का हौसला बढ़ाया। 

कोरोना टीका लगने के बाद डॉ. रश्मि ने कहा कि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। टीका लगवाने में कोई भी कोरोना वारियर्स झिझक न करे। यह टीका रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार है. लेकिन टीके लगने के बाद यह भी जरूरी है कि कोविड 19 के नियमों का उसी तरह पालन करें, जैसा पहले से कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि टीके लगने के बाद हल्का बुखार, बदन दर्द, सर्दी खांसी हो सकती है, लेकिन वह भी एक-दो दिन में सामान्य उपचार से ठीक भी हो जाएगी। 

जिला अस्पताल दुर्ग में सोमवार को कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे व डॉ. रश्मि भुरे पहुंचे। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. पी. बालकिशोर ने उन्हें टीकाकरण केन्द्र ले जाकर वहां की स्थितियों का अवलोकन कराया। इस बीच डॉ. रश्मि भुरे को कलेक्टर की मौजूदगी में कोरोना वैक्सीन लगाया गया। 

वैक्सीन लगने के बाद उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर टीका लगा है वहां मसाज, मालिश व सिकाई नहीं किया जाना है। जिन्हें पहला टीका कोविशील्ड लगा है, 28 दिन बाद उन्हें वही कोविशील्ड का दूसरा डोज लगेगा। जिला अस्पताल के टीकाकरण केन्द्र में सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर व सीएस डॉ. पी. बालकिशोर ने कोरोना वारियर्स से टीके के बाद की स्थिति की जानकारी ली। वहां मौजूद सभी कोरोना वारियर्स ने बताया कि टीके के बाद उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है। सीएमएचओ ने कहा कि अगर कोई परेशानी होती है तो तत्काल कंट्रोल रूम को सूचित किया जाना चाहिए।
 

अन्य पोस्ट

Comments