रायगढ़

सीएमएचओ व स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों समेत 341 लोगों ने लगवाया कोरोना टीका
22-Jan-2021 6:52 PM 33
  सीएमएचओ व स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों समेत 341 लोगों ने लगवाया कोरोना टीका

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायगढ़, 22 जनवरी। बुधवार को कोरोना टीकाकरण के तीसरे सत्र के दौरान जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी समेत स्वास्थ्य विभाग के कई अधिकारियों व डाक्टरों ने टीका लगवाया। टीकाकरण का आयोजन जिले के मेडिकल कॉलेज, एमसीएच लैलूंगा, लोईंग सीएचसी और खरसिया सिविल हॉस्पिटल में लगाया गया। यहां हर दिन कोविन एप के अनुसार फ्रंटलाइन कोरोना वर्कर्स को कोविड का टीका लगाया जा रहा है। जिले के चारों केंद्रों में वर्तमान में 100 टीके लगाए जाने का लक्ष्य है जिसमें से 16 जनवरी को 319, 18 जनवरी को 260 और 20 जनवरी को 341 लोगों ने टीका लगाया।

सीएमएचओ रायगढ़ और जिला टीकाकरण अधिकारी ने सभी से अपील की है कि वह कोविड-19 से सुरक्षा देने के लिए कोविड वैक्सीनेशन अवश्य कराएं। वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है और  बिना डरे निर्धारित समय पर इसे लगवाएं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसएन केसरी ने बताया यदि बिना सूचना दिए कोई वैक्सीन नहीं लगवाता तो दो दिन तक उसके नाम को प्रतिरक्षा सूची में रखा जाएगा। इसके बाद वह नाम एप से हट जाएगा और फिर दोबारा उसे कोविड का टीका नहीं लगेगा। डॉ. केसरी ने बताया जिले में चार सेंटरों में कोविड की वैक्सीन लगाई जा रही है। इन सभी सेंटरों को मिलाकर 400 फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य दिया गया है। सभी कर्मचारी सुबह आठ बजे निर्धारित सेंटर में पहुंचकर सुबह 9 बजे से वैक्सीनेशन का कार्य शुरू कर रहे हैं, लेकिन निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक कुछ कर्मी वैक्सीनेशन के लिए नहीं पहुंच रहे हैं। 

दो दिन बाद हट जाएगा नाम- सीएमएचओ डॉ. केसरी

डॉ. केसरी ने बताया कई लोगों को कोरोना संक्रमित, गर्भावस्थाव अन्य स्वास्थ्यगत कारणों से टीका नहीं लगाया जा रहा है। कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने सूचना देकर न आने का कारण बताया है। इनको बाद में कोविड की वैक्सीन लगाई जाएगी, लेकिन कई ऐसे भी लोग हैं, जिन्होंने कोई सूचना भी नहीं दी है और टीकाकरण के लिए भी नहीं पहुंचे हैं। ऐसे लोगों का दो दिन बाद एप से स्वयं ही नाम हट जाएगा इसलिए बिना लापरवाही किए वैक्सीनेशन निर्धारित दिन व समय पर करवाएं। कोरोना से जंग जीतनी है तो वैक्सीन लगवाना जरूरी है। यह टीका बिल्कुल सुरक्षित है।

अन्य पोस्ट

Comments