रायगढ़

धरना-प्रदर्शन, कलेक्टोरेट का घेराव फिर हुई गिरफ्तारी
23-Jan-2021 5:01 PM 34
धरना-प्रदर्शन, कलेक्टोरेट का घेराव फिर हुई गिरफ्तारी

प्रदेश सरकार के खिलाफ भाजपा ने की जमकर नारेबाजी, किसानों की समस्याओं को लेकर किया आंदोलन

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायगढ़, 23 जनवरी।
किसानों को धान खरीदी सहित अन्य प्रकार की हो रही समस्याओं को देखते हुए शुक्रवार को भाजपा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। चक्रधर नगर चौक के करीब भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता इक्ट्ठा हुए और यहां धरना प्रदर्शन के बाद कलेक्टोरेट का घेराव किया। यहां भी उन्होंने जमकर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और पुलिस ने उन्हें रोकते हुए गिरफ्तार कर लिया। 

शुक्रवार को रायगढ़ में भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता चक्रधर नगर चौक के करीब इक_ा हुए। इसके बाद यहां से पैदल नारेबाजी करते हुए कलेक्टोरेट तक पहुंचे। यहां पुलिस के द्वारा उन्हें भीतर जाने से रोका गया, तो कलेक्टोरेट के सामने सडक़ पर बैठकर भाजपा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने भूपेश सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाए। इसके बाद पुलिस के द्वारा उन्हें गिरफ्तार कर लिया। जिन्हें अस्थायी रूप से बनाए गए जेल मिनी स्टेडियम में ले जाकर सभी की गिरफ्तारी की गई। इस दौरान सांसद गोमती साय, भाजपा नेता ओपी चौधरी, भाजपा जिलाध्यक्ष उमेश अग्रवाल, जवाहर नायक, गुरूपाल भल्ला, आशीष ताम्रकर सहित अन्य भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 

भूपेश बघेल विपक्षी नेता की तरह काम करथे- ओपी चौधरी
कलेक्टोरेट घेराव से पूर्व धरना प्रदर्शन के दौरान मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए भाजपा नेता ओपी चौधरी ने कहा कि मनीराम किसान भाई आत्महत्या कर लीस, काबर करीस, होकर रकबा कटौती करे रीहिस, पर एमन क कहत हे, वो हर किसान नहीं हे, शराबी हे। इसने संवेदनहीन बात करत हे। अभनपुर में, कोरला में किसान आत्म हत्या कर लीस, ओला कांग्रेस के नेता धनेन्द्र साहू जो प्रदेश के अध्यक्ष रीहीस कांग्रेस वो क कह दिस ये मानसिक रूप से विक्षिप्त हे, इसने एमन बात करत हें, इसने संवेदनहीनता करत हें। एमन रकबा ल काटत हें, बोरा नी देत हें। भूपेश सरकार समस्या पैदा करत हें। इसने स्थिति पूरा छत्तीसगढ़ में निर्मित कर देहें, भूपेश बघेल जी ऐति ओती आरोप लगाथे। भाजपा के जो सरकार रहिस हे ओघनी केन्द्र में जो कोटा रहिस वो 24 लाख मिट्रिक टन के कोटा रहिस चावल के, लेकिन पिछले साल जब यहां कांगे्रस के सरकार रहिस वोकर बाद मोदी जी के केन्द्र सरकार हर 24 लाख के जगह में 28.1 लाख मीट्रिक टन चावल के कोटा दे हे। जो हर भाजपा के समय ले भी ज्यादा हे। लेकिन ये भूपेश बघेल जी विपक्षी नेता की तरह काम करथे। मुख्यमंत्री बने हे फिर भी समझ नि पात हे और सीधा केन्द्र ल चिट्टी लिख दे हे, अगर मे जो बात बोले हो वो हर गलत होही त मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ल मै चुनौती देत हों, कि मोर ऊपर मानहानि के दावा करे। अगर जो मे बात बोलत हो ओमन सही होंही तो जनता के सामने, छत्तीसगढिय़ा भाई, बहिनी मन के सामने जाएं अऊ जनता के सामने माफी मांगे। 
 

अन्य पोस्ट

Comments