महासमुन्द

कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण
25-Jan-2021 5:09 PM 32
कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण

पहले दिन टीका लगाने के लिए सेंटर नहीं पहुंचने वाले हितग्राही का नम्बर सबसे अंतिम स्थान पर होगा 

दो बार सूचना के बाद भी टीका लगवाने नहीं पहुंचा तो तीसरा मौका नहीं मिलेगा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुन्द, 25 जनवरी।
कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण सोमवार से अब नए प्लान के साथ शुरू होगा। इसके तहत जिले में अब तीन नए वैक्सीनेशन सेंटर अर्बन पीएचसी नयापारा, बसना स्वास्थ्य केंद्र और बागबाहरा स्वास्थ्य केंद्र में बनाए गए हैं। 
अब स्वास्थ्य विभाग ने इन केंद्रों में 600 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाने का टारगेट तय किया है। इस बार वैक्सीनेशन के दिन टीका लगाने के लिए सेंटर नहीं पहुंचने वाले हितग्राही का नम्बर पोर्टल में सबसे अंतिम स्थान पर चला जाएगा। हितग्राही को सिर्फ  दो बार मौका मिलेगा। दो बार सूचना के बाद भी फ्रंट लाइन वारियर्स या हितग्राही टीका लगवाने सेंटर नहीं पहुंचता है तो उसे तीसरा मौका नहीं मिलेगा। उसका नाम कोविन पोर्टल से हट जाएगा। उसकी जगह पर नए फ्रंट लाइन वारियर्स को टीका लगाने का मौका मिलेगा। 

यदि इनके पास मैसेज नहीं भी पहुंचा तो ये लोग सीधे वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचकर वैक्सीन लगवा सकेंगे। जिले में पहले चरण में हुए पहले चार दिन में सिर्फ  52 प्रतिशत टीकाकरण हुआ था। अब स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की उम्मीद दूसरे चरण में यह आंकड़ा बढ़ाने की है। फ्रंट लाइन हेल्थ वर्करों को कोरोना की वैक्सीन लगाने का अभियान 16 जनवरी से तीन वैक्सीनेशन सेंटर से शुरू हुआ था। इसका पहला सप्ताह खासा उत्साहजनक नहीं रहा। तीन वैक्सीनेशन सेंटर पर चार दिन हुए वैक्सीनेशन में तय टारगेट 1200 में से 622 ने वैक्सीन लगवाया था। यह टीकाकरण तय लक्ष्य के मुकाबले 58 प्रतिशत कम हुआ।

अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार टीका लगवाने वाले 100 लोगों के अलावा 100 अन्य लोगों की लिस्ट भेजी जाएगी। ये लोग वेटिंग लिस्ट वाले होंगे। यदि पहली सूची से कम लोग केंद्र पहुंचे तो दूसरी सूची में लोगों को फोन कर बुलाया जाएगा। आशा, एएनएम और सहायिका फील्ड में मौजूद रहेगी। ऐसे हितग्राही जिनसे एक दिन पहले संपर्क हो चुका है फिर भी वो वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहा है तो ये उसके घर पहुंचकर संपर्क करेंंगी। अभी तक हितग्राहियों को 24 घंटे पहले तक एसएमएस भेजने की व्यवस्था है। अब से एक दिन पहले हितग्राही को फोन कॉल भी करके वैक्सीन लगवाने की सूचना दी जाएगी। कोविड पोर्टल का सर्वर पर ऑफलाइन प्रोसेस के माध्यम से वैक्सीनेशन का काम जारी रखने की छूट दी गई है। हालांकि बाद में जानकारी पोर्टल पर दर्ज करनी होगी। 

राज्य सरकार ने प्रदेश के किसी भी स्कूल को सेंटर बनाने पर रोक लगा दी है। इसके पीछे कारण यह बताया जा रहा कि माध्यमिक मंडल ने 10वीं और 12वीं परीक्षा की तिथि जारी कर दी है। ऐसे में स्कूलों में परीक्षा के लिए तैयारी जल्द शुरू कर दी जाएगी। पिछले 9 महीने से बंद पड़े स्कूलों की सफाई की जाएगी। परीक्षाओं को देखते हुए सरकार ने फिलहाल पीएचसी और सीएचसी में ही वैक्सीनेशन की इजाजत दी है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अरविंद गुप्ता ने कहा कि जिले में तीन नए वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं। सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक जिले में तीन नए वैक्सीनेशन की अनुमति मिली है। इस सप्ताह भी चार दिन वैक्सीनेशन होंगे। अब 6 सेंटर हर दिन 600 वैक्सीनेशन का टारगेट रखा गया है। सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक आगे निर्णय लिया जाएगा।
 

अन्य पोस्ट

Comments