सरगुजा

नया बस स्टैंड के पीछे बनेंगे 70 नए दुकान, पुराना बस स्टैंड में मॉल निर्माण की कवायद तेज
25-Jan-2021 8:59 PM 41
नया बस स्टैंड के पीछे बनेंगे 70 नए दुकान,  पुराना बस स्टैंड में मॉल निर्माण की कवायद तेज

   एमआईसी की बैठक में 9 एजेंडे पर चर्चा   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 25 जनवरी। अंबिकापुर नगर निगम की मेयर इन काउंसिल की बैठक में सोमवार को 9 एजेंडों पर चर्चा हुई। बैठक में महापौर डॉ. अजय तिर्की व लोक निर्माण विभाग के प्रभारी शफी अहमद ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रतिक्षा बस स्टैंड के पीछे 70 दुकानों का निर्माण कराया जाएगा। पुराना बस स्टैंड में मॉल बनवाने की प्रक्रिया भी तेज कर दी गई है।श्री अहमद ने कहा कि प्रतिक्षा बस स्टैंड में जो दुकानों का निर्माण होना है वह पीपीपी मॉडल पर बनेगा। पुराने बस स्टैंड में पहले से मॉल बनना स्वीकृत है जो व्यापारी मॉल बनने तक प्रतिक्षा बस स्टैंड में शिफ्ट होना चाहेंगे एवं दुकान खरीदना चाहेंगे उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी। श्री अहमद ने बैठक में अधिकारियों को पुराना बस स्टैंड का नाप जोख कर वस्तु स्थिति से अवगत कराने का निर्देश दिया है।

इसके अलावा बैठक में एक और महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। अंबिकापुर नगर के वार्ड में जो लोग सडक़ चौड़ीकरण के लिए अपनी सहमति देंगे, प्राथमिकता के तौर पर पहले वहां निर्माण कराया जाएगा। ज्ञान स्थली योजना अंतर्गत प्रशासकीय स्वीकृति को लेकर श्री अहमद ने कहा कि इस योजना अंतर्गत निगम के इंजीनियर अंबिकापुर नगर के सभी शासकीय स्कूल में जाकर संपर्क करें। स्कूलों का जीर्णोद्धार, अतिरिक्त कक्ष एवं और भी जो मरम्मत के कार्य हैं, उसकी सूची बनाएं। सूची तैयार होने के बाद शासन को प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा।श्री अहमद ने नगर निगम की स्कूल की हालत काफी खराब बताई और उन्होंने कहा कि इसके लिए भी अच्छा प्लान बनाएं। श्री अहमद ने बताया कि शहर के सभी उद्यानों मे ओपन जिम का प्रपोजल बनाकर शासन को भेजा जाएगा।

ट्रांसपोर्ट नगर को लेकर श्री अहमद ने कहा कि सभी गैरेज संचालकों को एक साथ वहां शिफ्ट करना पड़ेगा इसके लिए उनके आवश्यकता अनुसार उन्हें भूमि आवंटन भी करना होगा। इसके लिए श्री अहमद ने निगम के इंजीनियरों को दिशा निर्देश दिए है। काउंसिल की बैठक में पटपरिया निवासी मनोज तिर्की के जमीन पर निगम द्वारा पक्की सडक़ बनाए जाने को लेकर व उसके द्वारा मुआवजा मांगे जाने को लेकर श्री अहमद ने कहा कि पहले जमीन का जांच करा लें उसके बाद मुआवजे पर निर्णय लिया जाएगा।नगर के चौक चौराहों पर डिजिटल डिस्पले स्क्रीन लगाए जाने को लेकर श्री अहमद ने कहा कि रायपुर,बिलासपुर के रेट की अपेक्षा अंबिकापुर का रेट अप्रत्याशित है इसीलिए सभी का रेट मंगा लीजिए उसके आधार पर निविदा जारी करें।

अंकेक्षण रिपोर्ट नहीं देने को लेकर नाराज हुए अहमद

एमआईसी की बैठक में निगम के अधिकारियों के द्वारा बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2011-12 में अंकेक्षण प्रतिवेदन में कुल 26 आपत्ति है ।जिसे लेकर श्री अहमद ने नाराजगी जताते हुए कहा कि अंकेक्षण रिपोर्ट सभी पार्षदों को 3 दिन पहले देना चाहिए ताकि वह इसे देखें और इस पर चर्चा करें।अभी रिपोर्ट पढक़र इस पर कैसे निर्णय लिया जा सकता है। इसके अलावा बैठक में अन्य एजेंडा पर चर्चा करके सहमति बनी।

अन्य पोस्ट

Comments