दन्तेवाड़ा

एनएमडीसी तकनीकी निदेशक का बचेली-किरंदुल दौरा
24-Feb-2021 8:57 PM 39
  एनएमडीसी तकनीकी निदेशक का बचेली-किरंदुल दौरा

  खनन व प्लांट क्षेत्र का निरीक्षण, किरंदुल में भूमिपूजन   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बचेली, 24 फरवरी। एनएमडीसी के नये तकनीकी निदेशक सोमनाथ नंदी दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा के बैलाडीला स्थित बचेली किरंदुल परियोजना के दौरे पर पहुंचे। एनएमडीसी में पदभार ग्रहण के बाद यह उनका पहला दौरा था। श्री नंदी ने दोनों परियोजना के खनन क्षेत्रों का दौरा किया, साथ ही किरंदुल के नए बन रहे छनन संयंत्र का भूमिपूजन भी किया।

सोमनाथ नंदी एवं उनकी पत्नी व मिनरल इफक क्लब की उपाध्यक्ष मौसमी नंदी शनिवार की शाम को गेस्ट हाउस बचेली पहुंचे, जहां बचेली के अधिशासी निदेशक एके प्रजापति, तेजस्वनी महिला समिति की अध्यक्ष सुमन प्रजापति एवं उच्चाधिकारियों तथा यूनियन के प्रतिनिधियों ने उनका स्वागत किया। इस दौरान महाप्रबंधक प्रदीप सक्सेना, अभियांत्रिकी एवं परियोजना अधिशासी निदेशक एस सुरेन्द्र, स्लरी पाईपलाईन के अजित कुमार, पीके मजुमदार, केसी गुप्ता, संजय बासु, सुनील उपाध्याय, जी गणपत, बीके माधव, ए. बंधोपाध्याय, एम चोकसे, पदमनाभम नाईक, नरेन्द्र अंबादे, एसएस सतपथी, इंटक एवं एसकेएमएस यूनियन के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

गेस्ट हाउस परिसर में स्कूली बच्चों द्वारा पारंपरिक तरीके से स्वागत के पश्चात भगवान गणेश की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलन किया गया। परियोजना में हो रही लौह अयस्क उत्पादन से संबंधित गतिविधियां तथा नैगमिक सामाजिक दायित्व सीएसआर के तहत किये जो रहे विकास कार्यों को प्रेजेंटेशन के माध्यम से तकनीकी निदेशक को अवगत कराया गया।

इसके बाद अगले दिन 21 फरवरी रविवार को सुबह 10 बजे बचेली के निक्षेप क्रं. 5 एवं 10,11 ए के खनन व प्लांट क्षेत्रों का दौरा किया। स्लरी पाईपलाईन परियोजना का भी निरीक्षण किया।  शाम को गेस्ट हाउस परिसर में मजदूर यूनियन के पदाधिकारियों एवं विभागाध्यक्षों के साथ बैठक हुई। तत्पश्चात अंबेडकर पार्क एवं बाल उद्यान गये। अगले दिन 22 फरवरी, सोमवार को गेस्ट हाउस परिसर में पौधोरोपण किया गया। इसके बाद वे कि रंदुल परियोजना के लिए रवाना हुए। जहॉ अधिशासी निदेशक आर. गोविंदराजन द्वारा स्वागत किया गया।

किरंदुल के माईन्स क्षेत्र का दौरा के बाद उन्होंने छनन संयंत्र 3 का भूमिपूजन कार्य किया। गौरतलब है कि एनएमडीसी किरंदुल में लौह अयस्क की तीन खदानें हैं, निक्षेप क्रं. 14, 11 बी व 11 सी है। वर्तमान में दो छनन संयंत्र संचालित है, उत्पादन लक्ष्य को बढ़ाने के लिए तीसरे छनन संयंत्र की स्थापना की जा रही है।

इस दौरान कार्मिक महाप्रबंधक बीके माधव, उत्पादन महाप्रबंधक विनय कुमार, विद्युत महाप्रबंधक ए. बंधोपाध्याय, सिविल महाप्रबंधक लखबीर सिंह, महाप्रबंधक यंात्रिकी एसबी सिंह व यूनियन के पदाधिकारी व एनएमडीसी कर्मचारी अधिकारी उपस्थित रहे।

अन्य पोस्ट

Comments