रायगढ़

एनटीपीसी द्वारा बनाए तीनों ओवर ब्रिज जर्जर
25-Feb-2021 3:24 PM 63
एनटीपीसी द्वारा बनाए तीनों ओवर ब्रिज  जर्जर

एक तोड़ा जा चुका है, दूसरे की तैयारी, तीसरे ब्रिज की सडक़ धंसी

60 करोड़ की लागत के बाद अब फिर से होगा सुधार, एनआईटी से मांगे सुझाव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
रायगढ़, 25 फरवरी।
रायगढ़ शहर के बाहर एनटीपीसी लारा की रेल लाइन पर राइट्स कंपनी द्वारा बनाए गए तीन रेलवे ओवरब्रिज समय से पहले ही जर्जर हो गए हैं। जबकि इनको शुरू हुए साल भर का वक्त भी नहीं हुआ था। 
बताया जाता है कि इनके निर्माण कार्य में  60 करोड़ रुपए की राशि खर्च की गई थी और अब कंपनी अधिकारी इसलिए परेशान हैं कि इन तीनों ब्रिज को कैसे सुधारें। इस पर राइट्स ने रायपुर एनआईटी (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) से सुझाव मांगा है। घटिया निर्माण का आलम यह था कि दो साल पहले बने 3 पुलों में एक तोड़ा जा चुका है। दूसरे को तोडऩे की तैयारी की जा रही है। वहीं तीसरे ब्रिज की सडक़ धंस गई है। 

रायपुर से लौटे अफसरों ने बताया कि तोड़ा जा चुका ब्रिज एनआईटी से सुझाव मिलने के बाद ही बनाया जाएगा। इसके लिए कितनी राशि फिर से खर्च की जाएगी, इसका ब्यौरा सामने नहीं आया है।
एनटीपीसी की निर्माण एजेंसी राइट्स की अनदेखी के कारण 60 करोड़ रुपए खर्च कर बनाए गए तीन रेलवे ओवरब्रिज समय से पहले ही खस्ताहाल हो गए हैं। एक ब्रिज को रेलवे ने कुछ दिनों पहले ही आवागमन शुरू करने के बाद ढहा दिया। दरअसल राइट्स ने एक साल में ही जर्जर होने पर नेतनागर से बड़माल के बीच बने आरओबी को तोड़ दिया है। लोइंग मार्ग पर चिटकाकानी आरओबी में भी घटिया निर्माण के कारण इसकी सडक़ें भी सुधारी जा रही है। रेंगालपाली बॉर्डर के नजदीक बने आरओबी का भी यही हाल है। ठीक से कॉम्पेक्शन नहीं होने के कारण मिट्टी दबने से सडक़ धंसने का अनुमान है, लेकिन अफसर इसे लेकर एकमत नहीं है।

नया सुझाव आने तक बंद रहेगा आवागमन
बड़माल से नेतनागर के बीच बने मार्ग को पूरी तरह से डिसमेंटल कर रेलवे लाइन के ऊपर के पार्ट को निकाल दिया गया है। ऐसा इस मार्ग को शुरू करने के बाद किया गया। ग्रामीण नीचे के रास्ते से ही ट्रैक पार करते हैं। एनआईटी से सुझाव मिलने तक इसमें कोई सुधार नहीं किया जाएगा। ऐसे में अभी इसे होने में काफी लंबा वक्त लग सकता है।

लोइंग और एनएच पर बने ब्रिज की भी होगी मरम्मत
एक जानकारी के अनुसार बड़माल पर बने ब्रिज के अलावा एनएच 49 और लोइंग के रास्ते पर पडऩे वाले रेलवे ओवरब्रिज को भी राइट्स एजेंसी से ठेका लेकर आइरन प्राइवेट ट्राइंगल ने बनाया है। तीनों ब्रिज की स्थिति दयनीय है। सडक़ धंस रही है। उक्त दोनों ब्रिज पर आवागमन चालू है, लेकिन सडक़ लगातार धंस रही है। ऐसे में इन ब्रिज को भी सुधारने का सुझाव मांगा गया है। फिलहाल जीएसबी डालकर ही इन्हें सुधारा जा रहा है। लेकिन जर्जर हो रहे इस पुल पर कभी भी दुर्घटना घट सकती है।
 

अन्य पोस्ट

Comments