बिलासपुर

अचानकमार में पालतू पशुओं के लिये गौठान, बाघ प्राधिकरण ने वन विभाग से मांगा जवाब
25-Feb-2021 5:14 PM 32
अचानकमार में पालतू पशुओं के लिये गौठान, बाघ प्राधिकरण ने वन विभाग से मांगा जवाब

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बिलासपुर, 25 फरवरी। अचानकमार टाइगर रिजर्व में कोर एरिया में पालतू पशुओं के लिये गौठान बनाने को लेकर राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण ने जवाब मांगा है।

पत्रकार आलोक पुतुल ने बीते 19 फरवरी को अचानकमार टाइगर रिजर्व की कुछ तस्वीरें ट्वीट की थीं जिसमें उन्होंने बताया था कि एटीआर के कोर एरिया में 20-20 लाख रुपये की लागत से गौठान बना दिये गये हैं। गौठानों में पालतू पशु भी रखे जा रहे हैं। गौठान निर्माण के लिये बड़ी संख्या में मजदूरों को काम पर लगाया गया।

मुंगेली कलेक्टर पीएस एल्मा ने मीडिया को बताया कि गायों की सुरक्षा के लिये दो गौठान बनाये गये हैं। यह सुनिश्चित किया गया है कि क्षेत्र के लोगों को किसी समस्या का सामना न करना पड़े और सरकारी नीतियों का उन्हें लाभ भी मिल सके।

इससे यह पता चलता है कि अधिकारियों की जानकारी में इन गौठानों का निर्माण हुआ लेकिन मामले को रफा-दफा करने के लिये उन्होंने केवल एक फॉरेस्ट गार्ड को निलम्बित कर दिया। छत्तीसगढ़ के मुख्य वन्य जीव संरक्षक से इस मामले में 25 फरवरी तक जवाब मांगा गया है। 

अन्य पोस्ट

Comments