नारायणपुर

ऑपरेशन संगम, 7 नक्सल कैम्प ध्वस्त कर लौटे जवान
25-Feb-2021 9:19 PM 63
  ऑपरेशन संगम, 7 नक्सल कैम्प ध्वस्त कर लौटे जवान

  भारी मात्रा में विस्फटोक, नक्सल सामान बरामद  

छत्तीसगढ़’ संवाददाता

नारायणपुर, 25 फरवरी। अबूझमाड़ में बड़े नक्सली लीडरों की मौजूदगी की खबर पर छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र के सीमावर्ती इलाकों में तीन दिनों तक ऑपरेशन संगम चलाया गया। जिसमें बड़ी मात्रा में नक्सली सामग्री बरामद किया गया।  नारायणपुर-कांकेर एवं गढ़चिरौली के सरहदी क्षेत्र में अभियान के दौरान अलग-अलग क्षेत्र में पुलिस-नक्सली मुठभेड़  हुई। सुरक्षाबलों ने सात माओवादी कैम्प ध्वस्त किया गया। कैम्प से भारी मात्रा में नक्सल सामाग्री, विस्फोटक पदार्थ, कैम्प सामाग्री बरामद की गई। उक्त मुठभेड़ में कुछ माओवादियों के मारे जाने और घायल होने की संभावना पुलिस जता रही है।

विगत दिनों नारायणपुर एवं कांकेर से डीआरजी, एसटीएफ, बीएसएफ और आईटीबीपी की संयुक्त टीम  सर्चिंग पर रवाना की गई थी। सर्चिंग के दौरान ग्राम बरमटोला, कुदुलपाड़, कुम्मचलमेटा,  टेकमेटा और कुकुर गांव  के जंगल-पहाड़ी में माओवादियों के कैम्प दिखाई देने पर चारो तरफ से घेराबंदी करके आगे बढ़ रहे थे कि माओवादियों द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने व हथियार लूटने की नीयत से फायरिंग करने लगे। इस दौरान पुलिस पार्टी को अपने ओर आते देखकर माओवादियों द्वारा अपना डेरा छोडक़र जंगल पहाड़ी का फायदा उठाकर भागने लगे।

माओवादियों  डेरा की सर्चिंग के दौरान  कैम्प से विस्फोटक पदार्थ, टिफिन बम, पाईप बम, वायर, नक्सली वर्दी, दवाईयां, नक्सली साहित्य, बैनर, पोस्टर, पि_ू, प्रशिक्षण सामान, बर्तन एवं अन्य कैम्प व दैनिक उपयोगी भारी मात्रा में सामग्री बरामद की गई तथा मौके पर माओवादी की सात कैम्प को ध्वस्त किया गया। पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में कुछ माओवादियों के मारे जाने और घायल होने की संभावना है। माओवादियों के संभावित जगह पर सुरक्षाबलों द्वारा सर्चिंग की जा रही है।

अन्य पोस्ट

Comments