दुर्ग

कुष्ठ रोगी खोज अभियान के लिए निकुम व धमधा ब्लॉक में 4 मार्च से शुरू होगा प्रशिक्षण
27-Feb-2021 6:20 PM 20
कुष्ठ रोगी खोज अभियान के लिए निकुम व धमधा ब्लॉक में 4 मार्च से शुरू होगा प्रशिक्षण

कुष्ठ उन्मूलन के लिए 192 ग्राम पंचायतों के 595 खोजी दल को एनएमए देंगे ट्रेनिंग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 27 फरवरी।
जिले को कुष्ठ मुक्त बनाने की दिशा में पाटन ब्लॉक की तर्ज पर आगाज 2021 स्पर्श कुष्ठ जागरुकता अभियान निकुम व धमधा ब्लॉक के ग्राम पंचायत एवं आश्रित ग्रामों में सर्वे किया जाएगा। ग्राम पंचायतों का वार्ड स्तर पर माइक्रो प्लान बनाकर प्रत्येक ग्राम सभा में स्वास्थ्य विभाग की ओर से एनएमए, मितानिन, मितानिन ट्रेनर, एनजीओए सामाजिक कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दी जाएगी। 

निकुम ब्लॉक के 73 ग्राम पंचायतों में सर्वे के लिए 282 टीम को ट्रेनिंग दी जाएगी। वहीं धमधा ब्लॉक के 119 ग्राम पंचायतों में सर्वे के 313 टीमें बनाई गई हैं। घर-घर कुष्ठ सर्वे के लिए 4 मार्च से 12 मार्च तक निकुम व धमधा ब्लॉक में सर्वे टीम को प्रशिक्षित करने एनएमए व एनएमएस द्वारा कुष्ठ रोगी की खोज के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। पाटन ब्लॉक में परिवार के मुखिया के द्वारा प्रत्येक सदस्यों की कुष्ठ रोग की जांच की गई, जिससे अभियान को भारी सफलता मिली. इसके बाद अन्य ब्लॉकों में भी कुष्ठ रोगी की खोज अभियान शुरु किया जा रहा है। जिला कुष्ठ अधिकारी डॉ अनिल कुमार शुक्ला ने बताया जिले में कुष्ठ रोगियों के खोज में अप्रैल 2020 से 13 फरवरी 2021 तक सर्वे में 302 नए रोगियों की पहचान की गई, जिसमें 169 पीबी व 133 एमबी के थे। जिलेभर में कुष्ठ पीडि़तों के क्लोज संपर्क में आने वाले लोगों से हेल्दी कांटेक्ट कर 14 नए रोगी खोजे गए। इनमें से 3 रोगी दुर्ग नगर निगम के शहरी क्षेत्रों में मिले हैं। कुष्ठ मरीजों की जांच के लिए एक-एक जिला अस्पताल व सिविल अस्पताल, 8 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 22 प्राथमिक स्वास्थ्य व 10 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित 42 अस्पतालों में नियमित जांच की जा रही है।
 

अन्य पोस्ट

Comments