सरगुजा

दूषित जल और खराब भोजन से आधा दर्जन से अधिक मितानिनों की बिगड़ी तबियत,
04-Mar-2021 8:29 PM 38
दूषित जल और खराब भोजन से आधा दर्जन से अधिक मितानिनों की बिगड़ी तबियत,

  स्वास्थ्य विभाग के प्रशिक्षण शिविर में हुई थीं शामिल    

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 4 मार्च। सरगुजा जिला के लुण्ड्रा विकाखण्ड अंतर्गत ग्राम बटवाही आदिवासी बालक आश्रम में चल रहे  मितानिनों के प्रशिक्षण शिविर में दूषित जल और खराब भोजन से आधा दर्जन से अधिक महिलाएं बीमार हो गर्इं। मितानिनों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग के द्वारा 100 से अधिक मितानिनों का सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर लुण्ड्रा ब्लॉक के ग्राम बटवाही में अयोजित किया गया था, जिसमें शिविर के तीसरे दिन महिलाओं को दूषित जल और खराब भोजन के सेवन से उल्टी और दस्त होने की शिकायतें आना शुरू हो गई और देखते ही देखते उनकी तबियत बिगडऩे पर स्वास्थ्य विभाग में हडक़ंप मच गया। तत्काल सभी बीमार मितानिन महिलाओं को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

बीमार मितानिनों ने मीडिया को बताया कि प्रशिक्षण शिविर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा ग्राम बटवाही में किया जा रहा है, वहां काफी अव्यवस्था है। यहां रात होने के बाद प्रकाश के लिए लाइटिंग की व्यवस्था भी नहीं है जिससे उन्हें रात के अंधेरे में बिना प्रकाश के रहना पड़ता है। वहीं दूसरी तरफ उन्हें दूषित पानी और खराब भोजन भी दिया जा रहा है जिससे उनकी स्वास्थ्य लगातार खराब हो रही है। उन्होंने इसकी शिकायत अपने वरिष्ट अधिकारियों से भी की है लेकिन उनके द्वारा कोई सुध नहीं ले रहे है।

मितानिनों ने यह भी बताया कि प्रशिक्षण में आए हुए जिनका स्वास्थ्य खराब हो रहा है, उन्हें तत्काल अस्पताल जा रहा है। वहीं पूरे मामले की पुष्टि करते हुए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉ. समरीन ने बताया कि हमारी टीम के द्वारा लगातार आधा दर्जन से अधिक मितानिन महिलाएं जो उल्टी और दस्त से ग्रसित हुई हैं, उनका इलाज किया जा रहा है।

अन्य पोस्ट

Comments