धमतरी

प्रदेश सरकार महिलाओं के आत्मसम्मान और स्वरोजगार के लिए सृजनात्मक कार्य कर रही - डॉ.लक्ष्मी
07-Mar-2021 9:01 PM 77
प्रदेश सरकार महिलाओं के आत्मसम्मान और स्वरोजगार के लिए सृजनात्मक कार्य कर रही - डॉ.लक्ष्मी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

नगरी, 7 मार्च। मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं सिहावा विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर  ‘छत्तीसगढ़’  से चर्चा करते हुए  कहा कि देश, प्रदेश, धमतरी जिले एवं सिहावा विधानसभा क्षेत्र की महिलाओं को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देती हूं। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस महिलाओं को सशक्त बनाने और उनके अधिकारों के प्रति जागरूकता लाने का दिन है।

आगे कहा कि मातृ शक्ति के बिना इस संसार की कल्पना नहीं की जा सकती। छत्तीसगढ़ में तो देवी को मां स्वरूप माना जाता है। धमतरी में मां विंध्यवासिनी, गंगरेल में मां अंगारमोती, दंतेवाड़ा में मां दंतेश्वरी, रतनपुर में मां महामाया, डोंगरगढ़ गढ़ में मां बमलेश्वरी, चंद्रपुर में मां चंद्रहासिनी और कोई ना कोई आस्था का केंद्र है। जिसके आशीर्वाद से प्रदेश तरक्की कर रहा है।

प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल के नेतृत्व में सिर्फ दो साल के कार्यकाल में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अनेक सकारात्मक कार्य हुए हैं। विशेष तौर पर महिला सशक्तिकरण, उनके आत्मसम्मान की रक्षा और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वरोजगार से जोडऩे की लगातार कवायद की जा रही है। प्रदेश की महिलाएं हर क्षेत्र में पुरूष के कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं।

उन्होंने कहा कि महिलाएं एक साथ मां, बेटी, बहन सहित कई भूमिकाएं निभाते हुए अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वहन करती हैं, किन्तु आज की नारी हर क्षेत्र एवं गतिविधियों में बढ़-चढक़र हिस्सा लेकर खुद को साबित कर रही हैं। समय के साथ लोगों के विचारों में भी परिवर्तन हुआ है।

महिलाओं को स्वसहायता समूहों से जोडक़र उन्हें न सिर्फ स्वावलम्बी बनाया जा रहा है, बल्कि इससे उनका आत्मविश्वास भी अपेक्षाकृत मजबूत हुआ है। महिलाओं को योजनाओं का वास्तविक लाभ देने अनेक नियमों का शिथिलीकरण भी किया गया है। प्रदेश सरकार की सोच बेहद सकारात्मक और स्पष्ट है। महिलाओं को आगे बढ़ाने में हमारी सरकार हरसम्भव मदद कर रही है।

प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के हित में मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, नोनी सुरक्षा योजना, महतारी जतन योजना, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना, हेल्पलाइन 181, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, सखी वन स्टॉप सेंटर, नवा बिहान योजना जैसी योजनाएं संचालित की जा रही है जिसका लाभ प्रदेश की हमारी हमारी माताओं एवं बहनों को मिल रहा है।

सिहावा - नगरी क्षेत्र के तीन बेटियां  महिला स्व सहायता समूह की संचालिका दुर्गेश नंदिनी साहू ने गोबर से दिए एवं गणेश की मूर्ति बनाकर स्वरोजगार को अपनाया है और स्वरोजगार के लिए महिलाओं को प्रेरित किया है। बाल गायिका अनन्या नाग और ओजस्वी (आरू) साहू ने अपने गायकी से क्षेत्र का मान बढ़ाया है। मैं इनके उज्जवल भविष्य की कामना करती हूं।

प्रदेश सरकार का मूल मंत्र गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ को साकार करने में हमारे प्रदेश की महिलाओं का विशेष सहयोग मिल रहा है।

छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना में भी महिलाएं अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर रही हैं।

बाड़ी योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाएं स्व सहायता समूह बनाकर बाड़ी में साग सब्जी उगा कर आय अर्जित कर रही हैं।

देश की अपनी तरह की अनूठी योजना गो धन न्याय योजना के माध्यम से गौठान समिति द्वारा गोबर खरीदी कर महिला समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट बनाने में महिला स्व सहायता समूह की महिलाएं सहयोग प्रदान कर रही हैं।

महिलाओं की सुरक्षा हमारी सरकार की जिम्मेदारी ही नहीं सर्वोच्च प्राथमिकता है। ग्रामीण क्षेत्रों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मितानिन बहने  ग्रामीण जनों की सेवाएं कर रही हैं। चर्चा के अंत में विधायक डॉ. लक्ष्मी ने महिलाओं से अपने अधिकारों को जानने  एवं छत्तीसगढ़ शासन की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाने की अपील की है।

अन्य पोस्ट

Comments