सरगुजा

मंत्री भगत ने सरगुजा कलेक्टर को दिए विधायक निधि से 25 लाख
11-Apr-2021 9:36 PM (29)
 मंत्री भगत ने सरगुजा कलेक्टर को दिए विधायक निधि से 25 लाख

   कोरोना प्रबंधन में किया जाएगा इस राशि का उपयोग   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 11 अप्रैल। खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत ने विधायक निधि से 25 लाख रूपये सरगुजा कलेक्टर को दिये। इस राशि का उपयोग कलेक्टर द्वारा आवश्यकतानुसार कोविड प्रबंधन में किया जाएगा। उक्त राशि हेतु स्वीकृति देते हुए मंत्री अमरजीत भगत ने जिला कलेक्टर को निर्देश दिया कि आवश्यकतानुसार कार्ययोजना बनाकर इस राशि का उपयोग कोविड की रोकथाम के लिये की जाए।

आज 11 अप्रैल को मंत्री अमरजीत भगत ने सरगुजा जिले के जन-प्रतिनिधियों, विभिन्न समाज के पदाधिकारियों, व्यापारी संघ व जिले के प्रशासकीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक पूर्णत: बढ़ते कोविड के मामलों और उसकी रोकथाम पर केंद्रित रही। मंत्री अमरजीत भगत ने शासन-प्रशासन के साथ जनता व विभिन्न समाज के लोगों से साथ आने की अपील की, ताकि मिलकर कारगर कार्ययोजना बनाई जा सके। इसी बैठक में सरगुजा जिला युवा कांग्रेस के सदस्य व सरगुजा जिला कांग्रेस सेवा दल के महामंत्री परवेज़ आलम, महात्मा गांधी वार्ड क्रमांक 20, नगरपालिका अंबिकापुर के पार्षद दीपक मिश्रा, अंजुमन इस्लाहुल मुस्लेमिन वक्फ़ बोर्ड के सचिव इरफान सिद्दीकी ने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत को पत्र लिखकर कोविड के बढ़ते मामले को लेकर चिंता जताई। उन्होंने इस विषय में संज्ञान लेते हुए लॉकडाउन लगाने का अनुरोध किया।

वर्चुअल माध्यम में हुई इस मीटिंग में सीतापुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ब्लॉक बतौली के भी स्थानीय लोग भी मौजूद थे। बतौली के मंत्री प्रतिनिधि नीलय त्रिपाठी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान बताया कि हर रोज बतौली ब्लॉक की परिस्थिति खराब होती दिख रही है। यहां रोज 15 से 20 कोरोना संक्रमण के केस मिल रहे हैं। इस परिस्थिति को देखते हुए, उन्होंने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत व सरगुजा कलेक्टर से अनुरोध किया कि जल्द से जल्द लॉकडाउन लगाया जाए।

वहीं सीतापुर व आसपास के ग्रामीण अंचल के लोगों का कहना है कि यदि लॉकडाउन लगता भी है तो खेती से संबंधित लोगों को छूट दी जाए। यह फसल कटाई का समय है, किसानों का कहना है कि अभी बहुत सी फसलों की कटाई होनी शुरू हो गई है। यदि लॉकडाउन की वजह से कटाई का काम रुकता है तो यह उस किसान की मेहनत पर पाला पडऩे जैसा है। मंत्री अमरजीत भगत ने किसानों की बात सुनी और इस संदर्भ में सरगुजा जिला कलेक्टर से बात की। उन्होंने सरगुजा जिले के दोनों ग्रामीण व शहरी क्षेत्र की परिस्थिति अच्छी तरीके से समझ कर आगे फैसला लेने का निर्देश दिया।

ज्ञात हो कि इस समय पूरे प्रदेश में कोविड के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर की तुलना में ज्यादा तेज़ी से लोगों को संक्रमित कर रही है। इसे देखते हुए मंत्री अमरजीत भगत ने सरगुजा जिले में टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा की। साथ ही मरीज़ों के उपचार के लिये उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में बैठक में चर्चा की।

 मंत्री अमरजीत भगत का कहना है कि कोरोना के विरुद्ध जंग जीतने के लिये सभी को साथ आना होगा। दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा, क्योंकि हम जितना एक दूसरे के सीधे संपर्क में आएंगे, इसके प्रसार का खतरा उतना ही बढ़ेगा। साथ ही उन्होंने मास्क के सही इस्तेमाल पर भी ज़ोर दिया। मंत्री अमरजीत भगत ने हाल ही में अपने प्रभार जिलों जशपुर एवं बालोद जिले के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की बैठक भी ली थी। बैठकों में उन्होंने पीडीएस के तहत वितरण हेतु खाद्यान्न की उपलब्धता पर भी चर्चा की। संबंधित अधिकारियों से इस संबंध में बात करते हुए अनाज के समुचित भंडारण का निर्देश दिये।

अन्य पोस्ट

Comments