दुर्ग

ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण पर रोक लगाने हो रहे कार्यों की मानिटरिंग करने पहुंचे कलेक्टर
16-Apr-2021 7:40 PM (38)
ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण पर रोक लगाने हो रहे कार्यों की मानिटरिंग करने पहुंचे कलेक्टर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 16 अप्रैल।
कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा कर यहाँ कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हो रहे प्रयासों की मानिटरिंग की। उन्होंने वैक्सीनेशन, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट तीनों ही पक्षों में हो रहे कार्यों के संबंध में जमीनी स्तर पर हो रहे कार्यों की जानकारी ली, ग्रामीणों से फीडबैक लिया और एसडीएम श्री विनय पोयाम तथा बीएमओ से इस संबंध में चर्चा की। उन्होंने दुर्ग ब्लाक के विभिन्न गाँवों में आए कोरोना के मामलों और इस पर की गई प्रशासनिक कार्रवाई की जानकारी ली। सबसे पहले वे निकुम पहुँचे। यहाँ 20 बेड का आइसोलेशन सेंटर कोरोना सस्पेक्टेड मरीजों के लिए बनाया गया है। यहाँ उन मरीजों को रखा जाएगा जिनका एंटीजन टेस्ट निगेटिव आया है लेकिन कोविड के लक्षण हैं साँस लेने में दिक्कत है और सैंपल आरटीपीसीआर तथा ट्रूनाट के लिए भेजा गया है। यहाँ पर चिकित्सक तथा स्टाफ नर्स की व्यवस्था रहेगी। कलेक्टर ने निकुम में कोरोना संक्रमण की स्थिति के बारे में बीएमओ से पूछा। उन्होंने कहा कि मरीजों के आक्सीजन लेवल पर नजर रखें और किसी तरह की दिक्कत आने पर तुरंत जिला मुख्यालय स्थित हायर सेंटर रिफर करने की कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने एसडीएम से स्थानीय अमले के माध्यम से व्यापक चिन्हांकन अभियान जारी रखने कहा। उन्होंने कहा कि पल्स आक्सीमीटर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं ग्राम पंचायतों में उपलब्ध कराये गए हैं। इनके माध्यम से व्यापक चिन्हांकन  कराएं ताकि ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण को पूरी तरह से रोका जा सके। प्रिजंप्टिव मरीज का इलाज भी आरंभ कर दिया जाए।

हनोदा में देखी टेस्टिंग- कलेक्टर ने हनोदा में टेस्टिंग का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग में सबसे पहले उन बुजुर्गों की टेस्टिंग करें जिनकी तबियत अच्छी नहीं है। साथ ही वहीं मौके पर आक्सीजन लेवल की जाँच भी करें। यदि आक्सीजन देने की कार्रवाई की जानी है तो वहीं पर आक्सीजन भी दें। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन को कहा कि टेस्टिंग की व्यवस्था मुकम्मल करें ताकि इसमें काफी कम समय लोगों को देना पड़े। टेस्टिंग बिल्कुल समय पर शुरू हो जानी चाहिए और जल्दी जल्दी होनी चाहिए।

अंडा भी पहुँचे, यहाँ वैक्सीनेशन की ली जानकारी- कलेक्टर ग्राम अंडा भी पहुँचे। यहाँ उन्होंने वैक्सीनेशन  की स्थिति की जानकारी ली। यहाँ स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि वैक्सीनेशन का लक्ष्य काफी हद तक पूरा कर लिया गया है।

 

अन्य पोस्ट

Comments