कोण्डागांव

कोरोना केयर सेंटरों में व्यवस्था के लिए कलेक्टर ने दिए निर्देश
20-Apr-2021 8:27 PM (38)
कोरोना केयर सेंटरों में व्यवस्था के लिए कलेक्टर ने दिए निर्देश

कोण्डागांव, 20 अप्रैल। प्रतिदिन आयोजित होने वाली जिला टास्क फोर्स की विडियो कांफ्रेंस बैठक में 19 अप्रैल सोमवार को कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने कोविड केयर सेंटरों के निर्माण की गति को बढ़ाने के लिए निर्देश दिए। अगले एक सप्ताह में जिले में 800 बिस्तरों की क्षमता बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन प्रयास कर रहा है। इन 800 बिस्तरों में से जिला अस्पताल में 100, जिला पंचायत संसाधन केन्द्र में 15, कोविड केयर सेंटर कोण्डागांव में 20, फरसगांव में 33, केशकाल में 34, विश्रामपुरी में 13, माकड़ी में 13 ऑक्सीजनयुक्त बिस्तरों की व्यवस्था की जा रही है, जल्द ही इन्हें और बढ़ाया जाएगा।

इस संबंध में कलेक्टर ने निर्देश दिए हैं कि प्रत्येक कोविड केयर सेंटर में गद्दे, साफ चादर, कम्बल, पंखे, गर्म पानी, भाप लेने की मशीन, साफ-सफाई आदि की व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाए साथ ही दिन में तीन बार वार्डों की सफाई व सात दिनों के खाने का अग्रिम सूची तथा मरीजों के मनोरंजन के लिए टीवी, इंडोर गेम की व्यवस्था की जाएगी। इसके अतिरिक्त सभी सेंटरों में कैमरे, माईक, कपड़े धोने की व्यवस्था की जाएगी। ऑक्सीजन की ज्वलनशील प्रवृति को ध्यान में रखते हुए निरीक्षण हेतु कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर किसी भी अपरिहार्य घटना को रोकने हेतु अग्निशमन यंत्र व वॉर्निंग बोर्ड भी लगाए जाएंगे।

होम आईसोलेटेड मरीजों द्वारा प्राप्त शिकायतों पर ध्यान देते हुए कलेक्टर ने सभी संक्रमितों के घरों में सेनेटाईजेशन कर मरीजों को एक रूम में रखने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए साथ ही प्रत्येक होम आईसोलेटेड मरीजों की दिन में तीन बार डॉक्टरों के द्वारा कॉल से परीक्षण किया जावेगा। इसके लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जा रही है। इसके अलावा उन्होंने 45 वर्ष से अधिक उम्र के कोमोर्बिड व लक्षण वाले मरीजों को होम आईसोलेशन न देने के निर्देश दिए। उन्होंने मास्क न पहनने वालों तथा होम आईसोलेशन का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध जुर्माना लगाने व कंटेनमेंट जोन के निर्माण की कार्यवाही को तेज करने को कहा। सुदूर वनांचलों के ऐसे मरीज जो होम आईसोलेशन में है उन तक वन विभाग की टीम पहुंच उनकी जांच करेगी साथ ही अब होम आईसोलेटेड मरीजों के सम्पर्क नम्बरों के साथ घर के अन्य एक सदस्य का भी सम्पर्क नम्बर लिया जाएगा, ताकि आवश्यकता पडऩे पर मरीज से परिजनों के माध्यम से सम्पर्क किया जा सके। माईक्रो कंटेनमेंट जोन, एक्टिव सर्विलियंस तथा टीकाकरण को प्रमुखता देते हुए अधिक से अधिक माईक्रो कंटेनमेंट जोन बनाकर एक्टिव सर्विलियंस कराया जाएगा।

अच्छे प्रदर्शन पर टीकाकरणकर्ता व ऑपरेटर को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

केन्द्र सरकार द्वारा जारी निर्देशानुसार अब टीकाकरण अभियान में अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित कर केन्द्रों तक लाने में अच्छा प्रदर्शन करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व मितानिनों को नगद 200 रूपये की प्रोत्साहन राशि से सम्मानित किया जाएगा व टीकाकरण में अच्छी कार्यकुशलता व क्षमता का प्रदर्शन करने वाले टीकाकरणकर्ता तथा ऑपरेटरों को विभाग द्वारा 500 रूपये की प्रोत्साहन राशि सम्मान के रूप में दी जाएगी। इस दौरान कलेक्टर ने इस आपदा काल में  कार्य के प्रति लापरवाह कर्मचारियों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर डीएफओ उत्तम गुप्ता, डिप्टी कलेक्टर पवन कुमार प्रेमी, तहसीलदार गौतमचंद पाटिल, सीएमओ नगरपालिका सूरज सिदार, डीपीएम सोनल धु्रव, आयुष नोडल अधिकारी चंद्रभान वर्मा, एडीएफ शिवा चिट्टा सहित सभी विकासखण्डों से अधिकारी-कर्मचारी विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित रहे।

अन्य पोस्ट

Comments