कोण्डागांव

लॉकडाउन के पहले उमड़ी भीड़ कोरोना के गाइडलाइन का हुआ उल्लंघन
21-Apr-2021 7:04 PM (34)
लॉकडाउन के पहले उमड़ी भीड़ कोरोना के गाइडलाइन का हुआ उल्लंघन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

विश्रामपुरी, 21 अपै्रल। कोंडागांव जिले को 20 अप्रैल की शाम 6 बजे से 26 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक  कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। यह आदेश सोमवार को जारी हुआ है। इस बीच लोगों को साग सब्जी एवं अपनी जरूरत का सामान लेने के लिए पर्याप्त समय मिल सका है। 6 दिनों का ही लाकडाउन किया गया है, किन्तु लोगों को ऐसा लग रहा है कि लॉकडाउन की अवधि बढ़ सकती है जिसके चलते मंगलवार को केशकाल नगर में सब्जी एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में सामाजिक दूरी का जमकर उल्लंघन देखा गया। 

कोरोना से बचाव के लिए जारी प्रशासनिक गाइडलाइन का पालन कराने प्रशासनिक टीम भी नदारद नजर आई। इसके सोमवार को भी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में कोरोना के खतरे को दरकिनार करते हुए लोगों ने जमकर खरीददारी की।  रामनवमी के आसपास  शादी का मुहूर्त होने के कारण कई लोगों ने प्रशासन से शादी की अनुमति ली है। लॉकडाउन के बाद सामान नहीं मिलेगा जिसके चलते दूर दराज से ग्रामीण गाडिय़ों में भरकर केशकाल पहुंचे थे। एक परिवार से तीन से चार लोग खरीददारी के लिए पहुंचे थे। जिसके चलते दुकानों में भीड़ देखी गई।

 कलेक्टर द्वारा कई दिनों से धारा 144 लागू रखने के साथ ही नाइट कफ्र्यू भी लगाया गया था। पुलिस एवं प्रशासनिक टीम द्वारा प्रशासनिक गाइडलाइन पालन कराने जारी कवायद के बीच कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने 20 से 26 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन करने का आदेश जारी किया है। मंगलवार को केशकाल का साप्ताहिक बाजार होने के कारण लोग कोरोना गाइडलाइन को भूल गए तथा सब्जी एवं अन्य जरूरतों की सामान की खरीदी में लगे रहे। ज्यादातर लोगों ने न तो मास्क लगाया था न ही शारीरिक दूरी का पालन किया। कई लोगों ने मास्क लगाया तो किन्तु नाक के नीचे मास्क लगाए थे तो कई लोग गले पर मास्क लगाए हुए थे। जहां पुलिस एवं प्रशासन कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अथक प्रयास कर रही है।

वही कई लोग ऐसे हैं, जो प्रशासन एवं पुलिस को चकमा देकर कोरोना के गाइडलाइन का उल्लंघन करते दिखाई देते हैं। कहीं मोटरसाइकिल पर तीन सवारी चलते हैं, तो कहीं बिना मास्क के दो से तीन लोग वाहनों पर चलते हुए दिखाई देते हैं। प्रशासनिक अमला के सतत निगरानी के बावजूद लोग नियमों का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे हैं। 

 

 

अन्य पोस्ट

Comments