राजनांदगांव

डॉ. रमन को कांग्रेसियों से प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं - यदु
23-Apr-2021 7:19 PM (24)
डॉ. रमन को कांग्रेसियों से प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं - यदु

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 23 अप्रैल।
नगर निगम नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु ने महापौर हेमा देशमुख के बयान पर पलटवार करते कहा कि डॉ. रमन सिंह रायपुर में रहे या राजनांदगांव में, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि डॉ. सिंह राजनांदगांव की जनता से प्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं, इसलिए राजनांदगांव की जनता का आशीर्वाद लगातार डॉ. सिंह के साथ है।

श्री यदु ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि शायद महापौर को यह नहीं मालूम कि डॉ. सिंह धरातल में काम करने वाले नेता हैं, जो हमेशा जमीन से जुड़े लोगों से संपर्क करते हैं और नांदगांव के हित में काम करने प्रेरित करते हैं। यह राजनांदगांव की जनता ही नहीं राजनांदगांव की मीडिया भी बोल रही है। अभी कोरोना काल में राजनांदगांव के हित में छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री काम कर रहे हैं या राजनांदगांव के विधायक डॉ. रमन सिंह। इसका सबसे बड़ा उदाहरण राजनांदगांव के साथ-साथ पूरे छत्तीसगढ़ में जब कोविड-19 लगातार बढ़ रहे हैं तो प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री  टीएस सिंहदेव राजनांदगांव आते हैं, लेकिन अपने विधायक के जन्मदिन में केक काटने। 

मंत्री को राजनांदगांव के स्वास्थ्य सुविधाओं के संबंध में चर्चा कर सके या मेडिकल कॉलेज, जिला चिकित्सालय में जाकर व्यवस्था देख सके, इतना आग्रह करने का साहस न ही महापौर हेमा देशमुख में दिखा और न ही कांग्रेस के किसी नेता में। इससे समझ आता है कि छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्री की नजर में राजनांदगांव की क्या अहमियत है। रही बात राजनांदगांव के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर की तो उन्होंने राजनांदगांव जिले को प्रभार में लेकर छत्तीसगढ़ सरकार और राजनांदगांव पर बहुत बड़ा एहसान किया है, जो न तो आम जनता से कभी मुलाकात करते हैं और न ही राजनांदगांव के हित में सदन में बात करते हैं। साथ ही कभी उन्होंने राजनांदगांव के विकास के लिए कोई प्रयास भी नहीं किया।

 

अन्य पोस्ट

Comments